Latest News

4 Jul 2019

कांवड़ यात्रा को लेकर डीएम रितु माहेश्वरी ने तैयारियों की समीक्षा की

गाजियाबाद।  कांवड़ यात्रा को लेकर डीएम रितु माहेश्वरी ने नगर क्षेत्र को चार जोन व देहात क्षेत्र को तीन जोन में बांटा है। दोनों ही क्षेत्रों में आठ-आठ सेक्टरों पर मजिस्ट्रेटों की तैनाती की है गई। नगर क्षेत्र का जोनल प्रभारी एडीएम सिटी शैलेंद्र कुमार सिंह व देहात क्षेत्र का प्रभारी एडीएम प्रशासन जितेंद्र कु मार शर्मा को बनाया गया है। दोनों क्षेत्रों में गठित चार-चार क्यूआरटी टीम शिफ्टवार 12-12 घंटे ड्यूटी पर तैनात रहेंगी। प्रत्यके दो किलोमीटर पर इस बार एम्बुलेंस की व्यवस्था रहेगी। एसपी ट्रैफिक श्याम नारायण सिंह ने बताया कि कांवड़ यात्रा के दौरान 26 से 30 जुलाई तक हाईवे पर वाहनों का आवागमन पूर्णत: प्रतिबंध रहेगा। केवल 22 जुलाई से सुबह आठ बजे से 26 जुलाई की सुबह आठ बजे तक हाईवे के एक ओर हल्के वाहनों का ही आवागमन रखा जायेगा। भारी वाहनों की आवाजाही नहीं हो सकेगी। 14 जुलाई से शुरू होने वाली कांवड़ यात्रा को लेकर जिलाधिकारी रितु माहेश्वरी की अध्यक्षता में विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक हुई। बैठक में विद्युत, अग्निशमन, पुलिस, पीडब्ल्यूडी, सिंचाई, नगर निकाय सहित दर्जनों विभागों के अधिकारियों ने भाग लिया। कांवड़ यात्रा के दौरान सुरक्षा व्यवस्था को लेकर बनाई गयी योजना के बारे में एडीएम प्रशासन जितेंद्र कुमार शर्मा ने बताया कि जिले में चार स्थानों पर मुरादनगर गंगनहर पुल, मेरठ तिराहा, राजनगर एक्सटेंशन व जिला मुख्यालय पर कंट्रोल रूम खुलेंगे। डॉक्टरों की टीम के साथ 24 स्थानों पर एम्बुलेंस दवाइयों के  साथ उपलब्ध रहेंगी। अवैध कटों को बंद करने, तीस स्थानों पर पुलिस बूथ बनाए जाएंगे।
साफ-सफाई व्यवस्था को लेकर निकाय अधिकारियों को हिदायत दी गई है कि वे शिफ्टवार कर्मचारियों की तैनाती कर सफाई पर विशेष ध्यान दें। कांवड़ियोें के लिए बने अस्थाई घाटों की बैरेकेडिंग करने व गोताखोरी की व्यवस्था के साथ ही कांवड़ पटरी मार्ग पर जगह-जगह सोडियम लाइटों की व्यवस्था करने को कहा गया है। हाईवे तथा कांवड़ पटरी मार्ग पर हुए गड्ढों को तत्काल प्रभाव से भरने पर जोर दिया गया।
जिले को दो जोन व 11 सेक्टरो में बांटा गया है। सिविल डिफेंस के वार्डनों की तैनाती प्रमुख स्थानों पर लगाने, कांवड़ मार्ग पर 32 स्थानोें पर वॉच टावर स्थापित किए जाने एवं 61 मुख्य स्थानों पर लगभग 81 सीसीटीवी कैमरों की व्यवस्था होगी। पुलिस चौकी से लेकर थाने व तहसील पर गंगाजल की व्यवस्था रहेगी। बैठक में एसएसपी सुधीर कुमार सिंह, सीएम डा.एनके गुप्ता, एसपी सिटी श्लोक कुमार व सभी तहसीलों के एसडीएम मौजूद रहे। समीक्षा बैठक के दौरान सुरक्षा व्यवस्था को नगर व देहात क्षेत्र जोन मे बांटा गया है। नगर क्षेत्र की सुरक्षा के लिए चार सीओ, आठ इंस्पेक्टर तथा 85 दरोगाओं के साथ ही 770 पुलिसकर्मियों के हाथों में कमान सौपी जायेगी। दो प्लाटून पीएसी बल भी तैनात रहेंगा। एसपी देहात अनिल जादौन ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्र में तीन सीओ, आठ इंस्पेक्टर,70 दरोगा व 500 पुलिसकर्मियों को तैनात रखा जायेगा। इसके अलावा चार-चार क्यूआरटी टीम नगर व देहात क्षेत्र में तैनात रखी जाएगी। देहात क्षेत्र में कांवड़ पटरी गंगनहर मार्ग पर एक प्लाटून पीएसी तैनात रहेगी।

No comments:

Post a Comment