Latest News

10 Jul 2019

पति को फंसाने के लिए रचा सूइसाइड का ड्रामा, हिंडन से बेंगलुरु पहुंची कोमल

गाजियाबाद।  हिंडन बैराज से संदिग्ध हालत में लापता हुई कोमल तालान को सोमवार रात बेंगलुरु रेलवे स्टेशन पर पुलिस ने बरामद कर लिया। वह कोयंबूटर एक्सप्रेस के थर्ड एसी की बोगी नंबर (बी 1) में सफर कर रही थी। यह ट्रेन उसने मुंबई के लोकमान्य तिलक टर्मिनल से पकड़ी थी। इस दौरान वह एक हैंड लगेज लेकर ट्रैवल कर रही थी।  आधिकारिक सूत्रों की मानें तो कोमल पारिवारिक उलझनों से परेशान थी। वह किसी से भी संपर्क नहीं रखना चाहती थी। वह कहां जाना चाहती थी, अभी यह स्पष्ट नहीं है लेकिन इस दौरान वह कई शहरों में रही, जहां परिवार से कोई दूर-दूर तक ताल्लुक नहीं था। पुलिस के मुताबिक, कोमल अपने पति से खुश नहीं थी। पति नौकरी नहीं करते हैं, जबकि कोमल मैनेजर है। आए दिन उनके बीच लड़ाई होती थी। इससे परेशान कोमल सबकुछ छोड़कर अकेले चली गईं। इंदिरापुरम पुलिस कोमल को मंगलवार शाम को लेकर गाजियाबाद पहुंच गई थी। कोमल ने यह पूरा नाटक अपने पति से बदला लेने के लिए रचा था।
बेंगलुरु में पुलिस द्वारा ढूंढे जाने के बाद कोमल का उनसे सबसे पहला सवाल यही था कि क्या तुमने मेरे पति को पकड़ लिया? क्या मेरे पति को जेल भेजा? कोमल ने 5 जुलाई की शाम को हिंडन बैराज के पास अपनी स्कॉर्पियो खड़ी कर मोबाइल ऑफ कर दिया था। उसके बाद वह पब्लिक ट्रांसपोर्ट से दिल्ली के आनंद विहार बस टर्मिनल पहुंची, जहां से उसने जयपुर की बस ली और वहां पहुंचने के बाद मुंबई के लिए फ्लाइट ली। वहां पहुंचने के बाद ट्रेन से पुणे होते हुए बेंगलुरु पहुंची जहां रेलवे स्टेशन पर पुलिस टीम ने उसे हिरासत में ले लिया। इस दौरान उसने बस इतना ही बताया कि वह किसी से बात नहीं करना चाहती है। सूत्रों के अनुसार पुलिस को टिप मिली थी कि कोमल के पास एक और मोबाइल था, जिसपर उसने नया सिम लिया हुआ है। यह नंबर पुलिस ने ट्रेस किया। इसकी मदद से सर्विलांस टीम उसकी लोकेशन को ट्रेस करती रही। इसके बाद बेंगलुरु स्टेशन से पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया।

No comments:

Post a comment