Latest News

17 Jul 2019

पाकिस्तान ने उड़ानों के लिए खोला आसमान तो एयर इंडिया के पायलटों को हवा में मिला सरप्राइज

नई दिल्ली। कैप्टन वासदेव सिंह जसरोतिया मंगलवार की सुबह एयर इंडिया का विमान एआई 184 उड़ा रहे थे, तभी कॉकपिट में कराची एयर ट्रैफिक कंट्रोल (एटीसी) की आवाज गूंजी। कराची एटीसी ने बताया- 'पाकिस्तान एयर स्पेस खुला हुआ है।' दुनिया की सबसे लंबी दूरी की नॉन-स्टॉप फ्लाइट्स में एक सैन फ्रैंसिस्को से दिल्ली आते वक्त कैप्टन और उनके को-पायलट आदित्य यादव को यह आवाज सुनकर सुखद आश्चर्य हुआ क्योंकि उन्हें 14.50 बजे सैन फ्रैंसिस्को से उड़ान भरते वक्त इसकी जानकारी नहीं थी।
उस वक्त बोइंग 777-200 ईरान के ग्राउंड एयर स्पेस में था और पाकिस्तान के एयरस्पेस में प्रवेश किए बिना लंबे रास्ते की ओर मुड़ने ही वाला था। उन्हें पता नहीं था कि पाकिस्तान की सरकार ने मंगलवार को भारतीय समयानुसार 12.41 बजे अपना एयर स्पेस खोल दिया। कैप्टन जसरोतिया ने कहा, 'मैंने आवाज सुनकर कराची एटीसी से कई बार पूछताछ की और जब उन्होंने पुष्टि कर दी तो हमारी फ्लाइट पाकिस्तान के एयरस्पेस में घुस गई।' बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद बंद पड़े पाक एयर स्पेस के दोबारा खुलने पर फ्लाइट एआई 184 पहला भारतीय विमान थो जो दिल्ली आते वक्त पाकिस्तानी एयर स्पेस से होकर गुजरा। हालांकि, क्रू ने फ्लाइट में इसकी घोषणा नहीं की क्योंकि यात्री चिंता में पड़ सकते थे। उस विमान में 235 यात्री और 12 कैबिन क्रू के साथ-साथ चार पायलट्स थे। ये सभी निश्चित समय से एक घंटे पहले ही दिल्ली पहुंच गए। जरसोतिया ने कहा, 'हमारा फ्लाइट टाइम 18 घंटे का था जो एक घंटे कम हो गया। हमारे विमान में 5.7 टन फ्यूल बच गया। जब हमने घोषणा की कि हम तय समय से बहुत पहले ही दिल्ली पहुंच रहे हैं तो यात्री बहुत खुश हो गए।' एयर इंडिया के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, 'हमारी दूसरी फ्लाइट भी मंगलवार को सैनफ्रैंसिस्को से दिल्ली 4.30 बजे ही पहुंच गई जिसे 6.30 बजे पहुंचना था। धीरे-धीरे हमारी सारी उड़ानें फरवरी से 27 फरवरी से पहले के रूट पर पाकिस्तान से होकर आएगी।'

No comments:

Post a Comment