Latest News

16 Jul 2019

नवनियुक्त जिलाधिकारी डॉ. अजय शंकर पांडेय ने संभाला कार्यभार

गाजियाबाद। नवागत डीएम डॉ. अजय शंकर पांडेय ने सोमवार को कोषागार पहुंचकर कार्यभार ग्रहण किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि सरकार की प्राथमिकता कानून व्यवस्था और विकास की योजनाओं को गति देना है। जिले में स्वच्छ, ईमानदार, विश्वसनीय, अनुशासित और जवाबदेह प्रशासन उपलब्ध कराया जाएगा। मूल रूप से प्रयागराज के रहने वाले वर्ष 2005 बैच के आईएएस डा. अजय शंकर पांडेय का मुजफ्फरनगर जिले के डीएम पद से यहां स्थानातंरण हुआ है। इससे पूर्व पांडे राजस्थान में प्रतिनियुक्ति पर तैनात रह चुके हैं। वे गाजियाबाद नगर निगम के आयुक्त भी रहे तथा जिले के मुख्य विकास अधिकारी पद भी संभाल चुके हैं। सोमवार की दोपहर को विभागीय अधिकारियों और कर्मचारियों ने कलक्ट्रेट में उनका स्वागत किया। उन्हें गार्ड आफ आनर दिया गया। पूर्व डीएम रितु माहेश्वरी ने उन्हें चार्ज सौंपा। इसके बाद डीएम कार्यालय में पत्रकार वार्ता की। नवागत डीएम डा. पांडेय ने कहा कि जिले में संचालित योजनाओं को जमीनी स्तर पर प्राथमिकता के आधार पर लागू कराएंगे। उन्होंने कहा कि जनपद में सौहार्दपूर्ण वातावरण बनाने और भाईचारा कायम करने पर भी गंभीरता से काम करेंगे। सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने का कार्य कराएंगे। कार्यों में पारदर्शिता लाई जाएगी। किसानों की गन्ना समस्या का प्राथमिकता के आधार पर निदान कराया जाएगा। प्रयास किया जाएगा कि किसानों की समस्या का स्थाई समाधान हो। कावड़ यात्रा की सुरक्षा व्यवस्था को बनाये रखने के लिए सामजंस्य तौर पर काम किया जायेगा। गांव, कस्बों और शहर के विकास को कार्ययोजना तैयारी की जाएगी।
स्वच्छता को लेकर कर चुके हैं मिसाल पेश
नगर निगम गाजियाबाद के आयुक्त रहते हुए अजय शंकर पांडे ने स्वच्छता को लेकर मिसाल पेश की थी। खुले में शौच करने वालों को नसीहत देने के लिए उन्होंने सार्वजनिक स्थलों पर आईने लगवाए थे। मुजफ्फरनगर के डीएम रहते हुए उन्होंने नागरिकों के लिए एक नई मिसाल पेश की। स्वच्छता अभियान को लेकर उन्होंने अपने आफिस की सफाई में दस मिनट देकर जिले के लोगों के लिए प्रेरणा बनने का काम किया।

No comments:

Post a Comment