Latest News

11 Jul 2019

ईयरफोन की लीड बनी तीन बैंडवालों की मौत का कारण

गाजियाबाद। इंदिरापुरम थाना क्षेत्र के वसुंधरा सेक्टर-2 में रेल पटरियों पर बैठ कर बीड़ी पीते हुए तीन युवकों की ट्रेन से कट कर मौत हो गई। तीनों युवक निकट ही एक परिवार में हो रही घुड़चढ़ी में बैंड बजाने के लिए आए हुए थे। पुलिस ने जांच पड़ताल के बाद बताया कि एक युवक कान में ईयरफोन की लीड लगाए हुआ था। रेल पटरियों के निकट बढ़ता रिहायशी इलाका ऐसे हादसों का प्रमुख कारण है। वसुंधरा सेक्टर-2 ए में रेलवे लाइन के किनारे लल्लन यादव परिवार समेत रहते हैं। वह घर के सामने दूध की डेयरी चलाते हैं। उन्होंने बताया कि बुधवार को उनके बेट अरविंद की शादी थी।परिवार के सभी लोग बारात की तैयारी कर रहे थे। बारात दिल्ली के उत्तमनगर जा रही थी। उन्होंने घुड़चढ़ी और बारात के लिए प्रहलादगढ़ी का शिवा ब्रॉस बैंड बुक किया था। शिवा बैंड मालिक ने खोड़ा के राकेश बैंड के मालिक राकेश को कार्यक्रम का पूरा काम सौंपा हुआ था।
राकेश ने खोड़ा निवासी रोहित, मनीष और मनीष के दोस्त समेत अन्य लोगों को बैंड बजाने के लिए बारात वाले घर में भेजा हुआ था। दोपहर करीब एक बजे घुड़चढ़ी होने के बाद तीनों रोहित, मनीष व उसका दोस्त बीड़ी पीने के लिए ट्रेन पटरी पर जाकर बैठ गए। उनमें से एक ने कान में ईयरफोन की लीड लगा रखी थी। इसी दौरान गाजियाबाद से दिल्ली की और तेजी से आ रही टेÑन की चपेट में आने से तीनों दोस्तों की मौत हो गई। तीनों की उम्र 18 से 22 वर्ष के बीच की बताई जा रही है। घटना की सूचना मिलते ही इंदिरापुरम पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस को जांच पड़ताल में पता चला कि हादसे को लल्लन के घर शादी के फोटो खींचने आए एक फोटोग्राफर ने हादसा होते देखा था। उसने बताया कि  के नजदीक आकर होर्न बजाया था,जिसे सुनकर युवकों ने भागने की कोशिश की, लेकिन तक तक वे टेÑन की चपेट में आ चुके थे। एक साथ तीन युवकों की मौत की सूचना मिलते ही पुलिस और आसपास के लोग मौके पर पहुंचे।एसएचओ इंदिरापुरम संदीप कुमार ने बताया कि मृतकों के परिजनों को इस मामले से कोई शिकायत किसी से नहीं है। उन्होंने कोई तहरीर इस संबंध में नहीं दी है। सूचना के बाद राकेश बैंड के मालिक राकेश भी मौके पर पहुंचे, उन्होंने बताया कि रोहित उनके साथ बचपन से रहता था जबकि मनीष व उसके दोस्त के बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं है।

No comments:

Post a Comment