Latest News

10 Jul 2019

मैनपुरी लूट-दुष्कर्म कांड : दारोगा-सिपाही फरार, बदमाशों के मिले सुराग

मैनपुरी। जीटी रोड पर महिला से लूट के बाद सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम देने वाले बदमाशों के संबंध में पुलिस को अहम सुराग हाथ लग चुके हैं। पुलिस की पांच टीमें बदमाशों को अपने घेरे में लेने के लिए जाल बुन रही हैं। वहीं महिला के पति के साथ बेरहमी से पिटाई करने वाले एसओ व निलंबित दोनों सिपाही भी गिरफ्तारी के डर से फरार हो गए है। शुक्रवार रात कुरावली क्षेत्र में जीटी रोड पर बदमाशों ने औरैया निवासी एससी दंपती के साथ लूट की वारदात को अंजाम दिया था। वारदात के बाद बदमाश महिला को अगवा कर ले गए और सामूहिक दुष्कर्म कर एटा क्षेत्र में छोड़कर हो गए थे। दूसरी ओर पत्नी के अपहरण की सूचना देने पर तत्कालीन एसओ बिछवां राजेश पाल सिंह व अन्य ने उसके पति के साथ बेरहमी से पिटाई की थी। दूसरे दिन महिला के पति ने तत्कालीन एसओ व तीन अज्ञात पुलिसकर्मियों के खिलाफ एससी एक्ट व प्राणघातक हमले की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इस मामले की जांच सीओ कुरावली दद्दन प्रसाद को सौंपी गई है।
पुलिस सूत्रों के अनुसार, बदमाशों के संबंध में पुलिस के हाथ अहम सुराग लगे हैं, जिसके आधार पर उनकी तलाश तेज कर दी गई है। इधर, गिरफ्तारी से बचने के लिए आरोपित निलंबित एसओ व उनके दोनों हमराह फरार हो गए हैं। सोमवार को पुलिस ने उन्हें तलाश किया, लेकिन पकड़ में नहीं आए। वहीं पीड़ित महिला के पति के आगरा जाने के कारण सीओ कुरावली उसका ब्यान दर्ज नहीं कर सके हैं।
डीएम मैनपुरी पीके उपाध्याय ने पीड़ित महिला का मेडिकल फिर से कराने का आदेश दिया था। सोमवार को इंस्पेक्टर नरेंद्री सैनी महिला को आगरा एसएन मेडिकल कॉलेज परीक्षण के लिए ले गई। पति भी साथ हैं। शाम तक एसएन कॉलेज में मेडिकल बोर्ड गठित होने की कार्रवाई चल रही थी। महिला का परीक्षण नहीं हो सका था।
दूसरी ओर अपर पुलिस अधीक्षक ओमप्रकाश सिंह घटना वाले दिन से ही कुरावली में कैंप किए हुए हैं। पुलिस की टीमें बदमाशों की तलाश में दिल्ली, गाजियाबाद, गुरुग्राम, फीरोजाबाद, आगरा, व कन्नौज, इटावा में भटक रही हैं। पुलिस अधीक्षक अजय शंकर राय ने बताया कि जल्द बदमाशों को पकड़ लिया जाएगा।

No comments:

Post a Comment