Latest News

18 Jul 2019

महाराष्ट्र से वांछित था मुठभेड़ में मारा गया 50 हजार का इनामी रविंद्र कालिया

मेरठ। थाना दौराला क्षेत्र में 16 जुलाई को मुठभेड़ में मारे गए 50 हजार के इनामी बदमाश रविंद्र कालिया का नेटवर्क महाराष्ट्र तक फैला हुआ था। महाराष्ट्र में उसने अपने साथ साथियों के साथ ज्वैलर्स की दुकान में डकैती डाली थी और तीन किलोग्राम सोना लूटा था। सोने के इस लूट के मामले में महाराष्ट्र पुलिस ने उसे वांछित अपराधी घोषित कर रखा था। एडीजी प्रशांत कुमार ने बताया कि महाराष्ट्र में जिला पिम्परी चिंचवाड के वाकड़ पुलिस स्टेशन इलाके में इसी साल छह मार्च को रविंद्र कालिया ने अपने साथियों सुभाष मोहन लाल विश्नौई, महिपाल दूधाराम जाट, अनिल उर्फ छोटू, सचिन उर्फ अक्षय, संदीप, अनूप दावा के साथ पूणेकर ज्वैलर्स राठानी पूणे में डकैती डाली थी। इस वारदात में सुभाष मोहनलाल और  महिपाल दूधाराम पकड़े गए थे और इनसे 750 ग्राम सोना बरामद किया गया था। शेष साथी फरार चल रहे हैं।
वारदात के दौरान सुभाष दुकान के बाहर खड़ा था  महिपाल साजिश में शामिल था मगर मौके पर नहीं था। अनिल उर्फ छोटू गैंग लीडर है और दुकान के बाहर रिक्शा में बैठा था। रविंद्र कालिया, सचिन संदीप और अनूप ने डकैती डाल कर तीन किलो सोना लूटा था। खास बात यह है कि सात बदमाशों में से छह हरियाणा में हिसार के ही है और महिपाल दूधाराम जोधपुर के रहने वाला है। इस प्रकरण की जांच थाने के सीनियर इंस्पेक्टर सतीश मेने कर रहे हैं।

No comments:

Post a Comment