Latest News

15 Jun 2019

यमुना में नहाने गए तीन युवक नदी में डूबे, गोताखोर की मदद से तलाश में जुटी पुलिस

गाजियाबाद। यमुना में नहाने गए दो भाइयों समेत तीन युवक बह गए। उनके साथ गए एक पड़ोसी ने पुलिस कंट्रोल रूम पर घटना की सूचना दी। दिल्ली और यूपी पुलिस गोताखोरों की मदद से तीनों को खोजने में जुटी है। युवकों का सुराग न लगने से परिवार के लोग चिंतित हैं। गिरी मार्केट कालोनी में ओमपाल परिवार के साथ रहते हैं। शनिवार दोपहर उनके बेटे शिवा (23) व विपिन (19) अपने फुफेरे भाई मोहित (19) निवासी चंद्रलो दिल्ली व पड़ोसी आसिफ (28) के साथ बदरपुर गांव के पास यमुना में नहाने के लिए गए थे। शाम करीब चार बजे अचानक मोहित, विपिन और मोहित पानी में बह गए। अचानक विपिन का पैर फिसल गया। उसने बचाव के लिए पुकारा तो शिवा उन्हें बचाने के लिए यमुना में कूद गया। वह उसे बचाने का प्रयास करते हुए खुद भी बहने लगा। तभी मोहित दोनों को बचाने के लिए पहुंचा। तीनों पानी में बहते चले गए। इस पर आसिफ ने उन्हें बचाने का प्रयास किया लेकिन तीनों पानी में बह गए। उन्होंने शोर मचाकर आसपास के लोगों को एकत्र किया।
साथ ही घटना की सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दी। सूचना पर पहुंची थाना बुराड़ी दिल्ली पुलिस ने गोताखोरों को मौके पर बुलाया। करीब साढे़ छह बजे से गोताखोरों ने उन्हें तलाशना शुरू किया। लेकिन रात साढ़े नौ बजे तक गोताखोर तीनों को नहीं खोज सके थे। ट्रॉनिका सिटी थाना प्रभारी निरीक्षक सुभाष प्रताप सिंह का कहना है कि सूचना पर पुलिस टीम को रवाना किया गया था लेकिन मामला दिल्ली क्षेत्र का पाया गया। दिल्ली पुलिस मौके पर पहुंचकर बचाव कार्य शुरू कर चुकी थी। तीनों युवकों के डूबने से परिवार के लोग चिंचित हैं। जानकारी मिलने पर सभी के परिजन मौके पर पहुंच गए। उधर, कालोनी के लोग भी उनके सकुशल बाहर निकलने की दुआ कर रहे हैं। आरोप है कि यमुना में लगातार हुए अवैध खनन से वहां नहाते समय पैर रेत में धंस जाते हैं। इससे लोगों को जान से हाथ धोने पड़ता है।

No comments:

Post a Comment