Latest News

17 Jun 2019

राजधानी में ग्रामीण सेवा ड्राइवर से मारपीट, गृह मंत्रालय ने मांगी रिपोर्ट, तीन पुलिसकर्मी सस्पेंड

नई दिल्ली। राजधानी के मुखर्जी नगर इलाके में ग्रामीण सेवा (टेम्पो) ड्राइवर और उनके बेटे के साथ मारपीट मामले में सोमवार को तीन पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। इस संबंध में दोनों ही तरफ से एफआईआर दर्ज कराई गई है। घटना का विडियो वायरल होने के बाद गृह मंत्रालय ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक से रिपोर्ट मांगी थी। यह घटना रविवार शाम मुखर्जी नगर इलाके में हुई है जहां कथित रूप से टेम्पो ड्राइवर ने पुलिस वैन में टक्कर मार दी थी जिसके बाद उनके बीच बहस होने लगी। इस बहस के बीच टेम्पो ड्राइवर ने अपनी कृपाण निकाल ली और दिल्ली पुलिस अधिकारी पर हमला कर दिया। इसके बाद दर्जनभर पुलिस वाले ड्राइवर और उसके बेटे पर लात-घूंसे और लाठियां बरसाने लगे। आसपास मौजूद लोगों ने विडियो बना लिया जो वायरल हो रहा है। विडियो में कुछ पुलिसकर्मी ड्राइवर सरबजीत सिंह पर डंडे बरसाते और घसीटते दिख रहे हैं। पुलिस का आरोप है कि उनके वाहन को टेम्पो ने टक्कर मारी थी और उसके बाद बहस में ड्राइवर ने अपनी कृपाण निकालकर हमला कर दिया था।
 नई दिल्ली के डीसीपी ने प्रेस ब्रीफिंग में कहा, 'पुलिस ने क्रॉस एफआईआर दर्ज की है। दोनों ही केस क्राइम ब्रांच को सौंप दिए गए हैं। हमले के बाद कार्रवाई और ज्यादा पेशेवर तरीके से होनी चाहिए थी। सिर्फ इस वजह से तीन पुलिसकर्मियों को निलंबित किया गया है।'उधर, घटना से नाराज लोगों ने शालीमार बाग इलाके में प्रदर्शन किया और एसीपी के.जी.त्यागी पर भीड़ ने हमला कर दिया। बता दें कि घटना का विडियो सामने आने के बाद से दिल्ली पुलिस को चौतरफा आलोचना का सामना करना पड़ रहा है। दिल्ली की सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप), कांग्रेस और केंद्र में बीजेपी की सहयोगी अकाली दल ने दिल्ली पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठाए हैं। दिल्ली पुलिस केंद्रीय गृह मंत्रालय के अंदर है और घटना को देखते हुए गृह मंत्रालय ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक से रिपोर्ट मांगी है।
लोगों ने विडियो शेयर कर पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

No comments:

Post a Comment