Latest News

15 Jun 2019

दिल्ली पुलिस ने सीए के छात्र की हत्या का किया सनसनीखेज खुलासा

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली में सीए के छात्र चंदन के अपहरण और उसकी हत्या का दिल दहला देने वाला खुलासा हुआ है। दिल्ली पुलिस ने चंदन (26) की हत्या में उसके पुराने जानकार और ड्राइवर अंकित को गिरफ्तार किया है। आरोपित अंकित की गिरफ्तारी में उसकी शर्ट की अहम भूमिका रही, जिसे पहनकर वह एटीएम से पैसे निकालने गया था। पूरा मामला पूर्वी दिल्ली के शकरपुर इलाके का है और इसमें पुलिस ने आरोपित अंकित के साथ उसके दोस्त श्याम को भी गिरफ्तार किया है। दरअसल, दिल्ली पुलिस के पास सीए के छात्र चंदन के अपहरण और फिर हत्या का मामला सामने आया था। माता-पिता की शिकायत पर पुलिस ने जांच की तो पूरे मामले का सनसनीखेज खुलासा हुआ। दरअसल, चंदन सीए का छात्र होने के साथ कैब ड्राइवर भी था और खुद की कार होने के चलते एक शिफ्ट में खुद तो दूसरी शिफ्ट में उसने कार चलाने के लिए अंकित को ड्राइवर रखा हुआ था। कुछ दिन तक चंदन की कार चलाने के बाद अंकित ने उसकी नौकरी किन्हीं कारणों से छोड़ दी। मिली जानकारी के मुताबिक, नौकरी छोड़ने के बावजूद दिखावे के तौर पर चंदन और अंकित के संबंध अच्छे थे। यही वजह थी कि अंकित ने चंदन को नौकरी छोड़ने की फेयरवेल में बुलाया था। 
15 मई को अंकित के लिए रखी गई फेयरवेल पार्टी में चंदन भी गया था। इसी फेयरवेल पार्टी में फिरौती के लिए चंदन का अंकित ने अपहरण कर लिया।अपहरण के बाद फोन कर अंकित और उसके दोस्त श्याम ने चंदन को छोड़ने की एवज में 5 लाख रुपये की मांग की। इसके बाद चंदन के घरवालों ने भेजे गए बैंक अकाउंट में डाल दिए। वहीं, पैसे आते ही अंकित और श्याम ने सारे पैसे निकाल लिए और फिर कौशांबी (गाजियाबाद) में चंदन की गला दबाकर हत्या कर दी। फिर पुलिस से बचने के लिए चंदन के शव को नोएडा में फेंक दिया। इतना ही नहीं, सबूत मिटाने की कड़ी में चंदन की कार को मुरादनगर (गाजियाबाद, मुरादनगर) में छोड़ दी। पैसे देने के बाद चंदन के घरवालों को पूरा यक़ीन था कि अपहरणकर्ता फिरौती देने के बाद चंदन को छोड़ देंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। इस पर चंदन के घरवालों ने शकरपुर थाने में शिकायत दी। जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि आरोपित अंकित और उसके दोस्त श्याम ने दो बड़ी गलतियां कीं। पहली तो यही कि उन्होंने फिरौती की रकम बैंक अकाउंट में मंगवाई फिर एटीएम से पैसे निकाले। पुलिस की जांच आगे बढ़ी तो सीसीटीवी फुटेज से आरोपित अंकित पर शक गहरा गया। दरअसल, अंकित का सुराग उसकी शर्ट से मिला, जिसे पहनकर वह एटीएम से पैसे निकालने गया था। इसके बाद पुलिस ने अंकित को गिरफ्तार कर पूरे मामला का पर्दाफाश कर दिया।

No comments:

Post a Comment