Latest News

9 Jun 2019

कुशीनगर में किशोरी के साथ आधा दर्जन लोगों ने किया गैंगरेप, चार अरेस्ट

कुशीनगर। अलीगढ़  में मासूम बच्ची की हत्या का मामला अभी ठंडा भी नहीं पड़ा था कि कुशीनगर में एक 13 वर्षीय किशोरी के साथ हैवानियत की घटना सामने आई है। यहां दरिंदों ने एक मासूम किशोरी को उसके घर के पास से जबरन किडनैप कर लिया और आधा दर्जन लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म किया। दुष्कर्म के दौरान किशोरी के बेहोश हो जाने पर उसके घर के बगल में फेंककर भाग निकले। पीड़िता की मां की सूचना पर यूपी-100 की टीम पहुंची और पास के अस्पताल ले गई। मां ने थाने पर तहरीर दी तो पुलिस ने नाली के विवाद में मारपीट की घटना बताकर किशोरी का इलाज कराने की नसीहत दे डाली। पीड़िता की मां के मुताबिक, गांव में एक परिवार से उनका विवाद है। शुक्रवार की रात विपक्षी के घर दावत थी, जिसमें कुछ बाहरी लोग भी आए थे। आधा दर्जन से ऊपर जुटे लोगों ने भोजन के साथ शराब पी। रात करीब आठ बजे नशे की हालत में गाली देते हुए उसके दरवाजे पर आ गए और उसकी 13 वर्षीय बेटी को अपने घर उठा ले गए। जहां उसकी बेटी के साथ दरिंदगी की।
आरोपी बेहोशी की हालत में खून से लथपथ बेटी को दरवाजे के बाहर छोड़कर भाग गए।
पुलिस टीम किशोरी को पीएचसी पिपराइच ले गई। प्राथमिक उपचार के बाद उसे लेकर मां घर चली आई। यूपी-100 पुलिस ने अहिरौली थाने को सूचना भी दी, लेकिन पुलिस ने इसे गंभीरता से नहीं लिया। सुबह पीड़ित मां किशोरी को लेकर अहिरौली बाजार थाने गई तो एसएचओ ने उसे भगा दिया और बेटी का इलाज कराने की नसीहत दी।दूसरे दिन महिला अपनी बेटी को लेकर सुकरौली पीएचसी पहुंची, जहां उसकी गंभीर हालत देखते हुए डॉक्टरों ने महिला डॉक्टर के पास सीएचसी देवतहा भेज दिया, जहां उसका उपचार चल रहा है। उधर मामला चर्चा में आने पर सक्रिय हुई पुलिस ने आनन-फानन में आधा दर्जन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है जबकि दो की तलाश जारी है। पुलिस के प्रवक्ता ने बताया कि मामले में आधा दर्जन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया है, अन्य आरोपियों की तलाश जारी है। अहिरौली बाजार थाना के एक गांव में शुक्रवार की रात 13 साल की किशोरी के साथ की गई हैवानियत मानवता को शर्मसार करने वाली है। शुक्रवार को रातभर किशोरी दर्द से कराहती रही और आरोपी मामले में समझौता करने के लिए अपना-अपना दांव लगाते रहे। हालांकि किशोरी की तकलीफ देखकर उसकी मां सहम गई और वह शनिवार की सुबह परिवार के लोगों के साथ बेटी को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सुकरौली लेकर पहुंच गई। वहां किशोरी की हालत देख डॉक्टर भी हैरान हो गए।

No comments:

Post a Comment