Latest News

5 Jun 2019

कड़कड़डूमा कोर्ट के मैजिस्ट्रेट से ठगी, अकाउंट से निकले पैसे

नई दिल्ली। कड़कड़डूमा कोर्ट के मेट्रोपोलिटन मैजिस्ट्रेट देर रात काम खत्म करने के बाद सोने की तैयारी कर रहे थे। अचानक उनके फोन पर मेसेज आया, जिसे देखने पर मालूम हुआ कि उनके अकाउंट से 10 हजार रुपये एटीएम से निकल चुके हैं। कार्ड उनके पास था और उन्होंने किसी को भी अपनी अकाउंट डिटेल दी नहीं थी। इसलिए उन्होंने तत्काल बैंक के कस्टमर केयर को कॉल किया। जानकारी मिली कि डेबिट कार्ड हैक कर लिया गया है, जिसके जरिए चार और ट्राजैंक्शन कर 25 हजार रुपये और निकाले जा चुके हैं। कार्ड ब्लॉक करने तक हैकर कुल 35 हजार का चूना लगा चुका था। मेट्रोपोलिटन मैजिस्ट्रेट मुनीश गर्ग कड़कड़डूमा कोर्ट कॉम्प्लेक्स में रहते हैं। रविवार-सोमवार की रात वह अपना खत्म करने के बाद रात 1:38 बजे सोने की तैयारी कर रहे थे। इसी दौरान उनके मोबाइल फोन पर पैसे निकलने वाला मेसेज आया। 
उनका खाता पंजाब नैशनल बैंक, राधेपुरी ब्रांच में है। इसलिए तुरंत पीएनबी के कस्टमर केयर को कॉल किया तो एग्जिक्यूटिव ने बताया कि डेबिट कार्ड हैक कर लिया गया है।2 मई को खाते से चार ट्रांजैक्शन 8 हजार, 8 हजार, 8 हजार और एक हजार कर कुल 25 हजार रुपये पहले भी निकाले जा चुके हैं। ये विदड्रॉल सीबीआई कॉम्प्लेक्स से बताई गई। हालांकि एग्जिक्यूटिव ट्रांजैक्शन का सटीक समय और लोकेशन बताने में विफल रहा। उसने तत्काल एटीएम कार्ड को ब्लॉक कर दिया। मैजिस्ट्रेट का दावा है कि उन्होंने किसी को भी अपनी बैंक डीटेल नहीं दी थी और न ही वो कभी इंटरनेट बैंकिंग सर्विस का इस्तेमाल करते हैं। एटीएम कार्ड भी उनके पास मौजूद है। इसलिए 35 हजार रुपये धोखाधड़ी से हासिल करने वाले के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाए। पुलिस ने आईपीसी की धारा 420 के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

No comments:

Post a Comment