Latest News

19 Jun 2019

अनाज व्यापारी के मुनीम से 25.12 लाख की लूट का खुलासा, तीन व्यापारी गिरफ्तार

ग्रेटर नोएडा। दादरी कोतवाली क्षेत्र के घोड़ी बछेड़ा रामगढ़ फाटक के पास दो सप्ताह पूर्व अनाज व्यापारी इरफान अहमद के मुनीम से 25.12 लाख रुपए व कार लूट की घटना का पुलिस ने पर्दाफाश किया है। लूट की घटना को तीन अनाज व्यापारियों ने भाड़े के बदमाशों से अंजाम दिलाया था। सोमवार देर रात दादरी कोतवाली पुलिस व स्टार-टू टीम ने चेकिंग के दौरान तीनों अभियुक्तों को धर दबोचा, जिनके कब्जे से लूटी गई वैगनआर कार, घटना में प्रयुक्त स्कॉर्पियो व 10.5 लाख बरामद हुए हैं। लूट की रकम से खरीदी गई एक इको गाड़ी भी बरामद हुई है। ईर्ष्यावश घटना को अंजाम दिलाया था। आरोपी व्यापारी रेकी कर भाड़े के बदमाशों को जानकारी दे रहे थे। ज्ञात हो कि इससे कुछ समय पहले ही घटना में शामिल एक बदमाश पुलिस मुठभेड़ में घायल हो गया था, जबकि एक फरार हो गया था। घटना में शामिल तीसरा बदमाश कोर्ट में सरेंडर कर चुका है।सूरजपुर स्थित एसएसपी ऑफिस में आयोजित प्रेसवार्ता में एडीजी मेरठ जोन प्रशांत कुमार ने बताया कि बीते पांच जून को बाइक सवार तीन बदमाशों ने दादरी क्षेत्र के घोड़ी बछेड़ा रामगढ़ रेलवे फाटक के पास अनाज व्यापारी इरफान अहमद निवासी नई मंडी बुलंदशहर के मुनीम कपिल व अमित शर्मा से हथियार के बल पर 25 लाख 12 हजार रुपए व वैगनआर कार लूट ली थी। पड़ताल में जुटी पुलिस को घटना के संबंध में अहम सुराग मिले।
दादरी कोतवाली पुलिस व स्टार-टू टीम बदमाशों की तलाश कर रही थी। एडीजी ने बताया कि सोमवार देर रात चेकिंग के दौरान बील अकबरपुर तिराहे के पास से दादरी पुलिस व स्टार-2 टीम ने तीन अभियुक्तों को धर दबोचा।अभियुक्त की पहचान सुनील उर्फ चुन्नु निवासी मौसमगढ़ कोतवाली देहात बुलंदशहर, उमेश कुमार निवासी अहमदपुर  टाडा बुलंदशहर व प्रमेंद्र उर्फ पिंटू निवासी सैगली जिला बुलंदशहर के रूप में हुई है। अभियुक्तों के कब्जे से लूटी गई वैगनआर कार, घटना में प्रयुक्त स्कॉर्पियो व लूटे गए रूपयों में से 10.5 लाख रुपए बरामद किए गए हैं। एडीजी ने बताया कि पूछताछ में पता चला कि अभियुक्त सुनील उर्फ चुन्नु, प्रमेंद्र उर्फ पिंटू व उमेश बुलंदशहर मंडी में आढ़त (अनाज व्यापारी) का काम करते हैं। वहीं पर पीड़ित अनाज व्यापारी इरफान अहमद की भी आढ़त है। पिछले कुछ समय से अभियुक्तों का व्यापार कुछ मंदा चल रहा था, परन्तु इरफान का व्यापार बहुत अच्छा चल रहा था। इसको लेकर वे इरफान से ईर्ष्या करते थे। ईर्ष्यावश लूट व मारपीट की योजना बनाई थी।कैश इकट्ठा कर लेने पर आरोपी व्यापारियों ने इसकी जानकारी रास्ते में घात लगाये बैठे बदमाशों रोबिन, सचिन व वेदू को दी थी। भाड़े के बदमाशों ने वैगनआर कार के आगे अपनी बाइक लगाकर मुनीम कपिल व अमित शर्मा से 25 लाख 12 हजार रुपए व कार लूट ली थी।
घटना को अंजाम देकर बदमाश परी चौक होते हुए मथुरा चले गए थे। मथुरा में आरोपी व्यापारी उमेश कुमार के जीजा रहे हैं।एडीजी प्रशांत कुमार ने बताया कि लूट का मास्टर माइंड व्यापारी उमेश कुमार था। आरोपी उमेश ने इस काम के लिए अपने गांव के रोबिन को तैयार किया और रोबिन ने अपने साथ दो अन्य बदमाशों सचिन व वेदू को लिया। योजना के तहत बीते पांच जून को इरफान अहमद के मुनीम कपिल व अमित शर्मा जब कैश एकत्र करने निकले तो इसकी रेकी सुनील उर्फ चुन्नु, उमेश कुमार व प्रमेंद्र उर्फ पिंटू ने स्कॉपियो गाड़ी से की थी। प्रमेंद्र उर्फ पिंटू को ग्रेटर नोएडा के सेक्टर अल्फा-1 कमर्शियल बेल्ट में छोड़ने के बाद सुनील उर्फ चुन्नु व उमेश कुमार ने मुनीम कपिल व अमित शर्मा का पीछा करना शुरू किया। मुनीम ने लारेंस रोड दिल्ली व अन्य जगहों से कैश एकत्र किया था। सेक्टर अल्फा-1 से भी कैश लेना था, इसलिए प्रमेंद्र को यहां छोड़ दिया था।

No comments:

Post a Comment