Latest News

8 Jun 2019

अपराध नियंत्रण में कमजोर 14 जिलों के पुलिस प्रमुख सहित 25 IPS के तबादले

लखनऊ। लोकसभा चुनाव 2019 के बाद शासन ने कल देर रात 14 जिलों के पुलिस प्रमुखों समेत 25 आइपीएस अधिकारियों का तबादला कर दिया है। इनमें मुरादाबाद के डीआइजी/ एसएपी जे रविंद्र गौड़ भी शामिल है। जे रविंद्र गौड़ को डीआइजी एसआइटी लखनऊ के पद पर तैनात किया गया है। वहीं एसटीएफ में एक अतिरिक्त एसएसपी समेत तीन आइपीएस अधिकारियों की तैनाती की गई है। सरकार की मंशा एसटीएफ और जांच एजेंसी एसआइटी को और मजबूत करने की है। इसके साथ ही एसटीएफ को चार हिस्सों में बांटने की भी है।
एसटीएफ में मेरठ व वाराणसी में आइपीएस अधिकारियों व एक अतिरिक्त एसएसपी की तैनाती इसकेसंकेत है। यहां अब तक एएसपी की तैनाती होती रही है। एसटीएफ के वाराणसी व मेरठ कार्यालयों में अब तक एएसपी की बतौर प्रभारी तैनाती होती रही है। भाजपा लोकसभा चुनाव में जहां हारी है तथा जहां शिकायतें ज्यादा रही हैं। उनमें रामपुर व मऊ समेत कुछ जिलों के  एसएसपी/ एसपी को साइड पोस्टिंग दी गई है। प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार का कहना है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की एसटीएफ को और मजबूत बनाने की इच्छा रखते है। एसटीएफ में कार्य विभाजन डीजीपी के स्तर से तय होगा। दरसअल यह पहला मौका है जब एसटीएफ में दो एसएसपी की तैनाती होगी। माना जा रहा है कि अभी एसटीएफ और एसआइटी में और नए अधिकारियों की तैनाती करने की तैयारी है।

No comments:

Post a Comment