Latest News

5 Apr 2019

देश के बहादुर जवानों की बदौलत हम सुरक्षित: राजनाथ सिंह

लखनऊ। नक्सली हमले में शहीद हुए जवानों को श्रध्दांजलि देते हुए केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को कहा कि देश के बहादुर जवानों की बदौलत ही हम सुरक्षित हैं। राजनाथ ने कहा, देश के जो बहादुर जवान हैं, उन्हीं की बदौलत हम सभी सुरक्षित हैं। अगर उनके उपर किसी तरह की आंच आती है तो देश का हर नागरिक एक होकर बहादुर जवान की सुरक्षा के लिए तत्पर रहेगा। राजधानी स्थित अटल बिहारी बाजपेयी कन्वेंशन हाल में लखनऊ व्यापार मंडल के व्यापारिक सम्मेलन में बतौर मुख्य अतिथि के रूप में गृहमंत्री व लखनऊ सांसद राजनाथ सिंह मौजूद थे। इस मौके पर गृहमंत्री ने कहा कि देश के 126 जिलों में नक्सलवाद था लेकिन भाजपा सरकार के इन पांच सालों के कार्यालय में यह सिमट कर अब पांच से छह जिलों में बचा है। इसे भी जल्द खत्म कर दिया जाएगा। उन्होंने पड़ोसी देश को लेकर कहा कि पकिस्तान हमारा पड़ोसी है। हम चाहते हैं कि उससे हमारा रिश्ता बेहतर हो। पाकिस्तान में आतंकवादियों पर हमले के समय जवानों ने पूरी सावधानी बरती ताकि कोई निर्दोष हमले की चपेट में ना आए। 
राजनाथ ने कहा कि हमारी कोशिश हमेशा रहेगी कि पड़ोसियों से अच्छे संबंध हों लेकिन अगर भारत पर कोई गलत निगाह डालेगा तो उसे मुंह तोड़ जवाब दिया जाएगा। राजनाथ सिंह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का नाम लिये बिना उन पर हमला बोलते हुए कहा कि जब कोई कहता है कि देशद्रोह खत्म कर देंगे तो आश्चर्य होता है। कोई भारत को बर्बाद कर दे और कार्रवाई नहीँ होगी। ऐसा कैसे मुमकिन है। जो लोग इस बात को कहते हैं, उन पर मुझे शर्म आ रही है। कांग्रेस के घोषणापत्र पर वार करते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस का जो घोषणा पत्र है, वहदेश की जनता को गुमराह करने जैसा है। व्यापार मंडल की 21 सूत्री मांगों पर उन्होंने कहा कि अभी तो आचार संहिता लगी हुई है। जब चुनाव खत्म हो जाते हैं तो इस पर जरुर विचार किया जाएगा। जीएसटी पर राजनाथ ने कहा, मैं यह नहीं कहता कि जीएसटी की वजह से व्यापारियों को दिक्कत नहीं हुई है पर जीएसटी में जो समस्याएं आयीं, वो धीरे धीरे हल होती गयीं और आगे भी उनका हल करेंगे। इस मौके पर उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री बृजेश पाठक, आशुतोष टंडन, राज्यसभा सांसद अशोक बाजपेयी के साथ ही लखनऊ की महापौर संयुक्ता भाटिया व व्यापार मंडल के पदाधिकारी भी मौजूद थे।
इससे पहले गौतमबुद्ध नगर लोकसभा क्षेत्र में भाजपा प्रत्याशी एवं केंद्र में मंत्री महेश शर्मा के समर्थन में चुनावी जनसभा को सम्बोधित करते हुए राजनाथ ने कहा, कांग्रेस सरकार के दौरान बैंकों से 52 लाख करोड़ रुपये दिए गए  उन लोगों को जो आज भारत छोड़ कर चले गए। जब तक कांग्रेस की सरकार थी वो लोग यहीं थे लेकिन जब चौकीदार आया तो वो भाग गए। उन्होंने कहा,  सभी कान खोलकर सुन लें हमारी पार्टी किसी का भी तुष्टीकरण नहीं करती है। हमारी सरकार सबका साथ सबका विकास की बात करती है। राजनाथ सिंह ने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री ने महसूस किया कि ऐसे भी गरीब हैं जो सवर्ण वर्ग में हैं लेकिन उन्हें किसी भी प्रकार की सुविधा नहीं मिलती है। ऐसे लोगों के लिए 10 फीसदी आरक्षण को लागू किया गया। राजनाथ ने कहा कि सपा-बसपा अब गठबंधन में है और कांग्रेस गठबंधन में नहीं है। हो सकता है बाहर से कोई मिलीभगत हो। आप सपा, बसपा और कांग्रेस को देख चुके हैं, सभी पर भ्रष्टाचार के आरोप लग चुके हैं, लेकिन योगी सरकार में एक भी घोटाला नहीं हुआ। राजनाथ ने कहा,  2014 में मैं गृहमंत्री बना था और कुछ ही समय बाद पाकिस्तान की तरफ से गोली चली और हमारे पांच जवान शहीद हो गए। मैंने आदेश दिया कि पहली गोली भारत की तरफ से नहीं चलनी चाहिए, लेकिन अगर उधर से पहली गोली चलती है तो फिर गोलियों को गिना नहीं जाना चाहिए।

No comments:

Post a Comment