Latest News

11 Nov 2018

अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति संघर्ष समिति की बैठक आयोजित : फर्रुखाबाद

कुलदीप अवस्थी,(फर्रुखाबाद)।  अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति संघर्ष समिति की महत्वपूर्ण बैठक विनोद कुमार एडवोकेट के नगला पीतम स्थित आवास पर हुई । बैठक की अध्यक्षता सोने लाल ने की । जिसमें  समिति के पदाधिकारी के कार्यो की समीक्षा करते हुये महेंद्र कठेरिया को सचिव पद से प्रोन्नत कर महामंत्री नियुक्त किया गया । बैठक को सम्बोधित करते हुये समिति के अध्यक्ष राकेश कुमार सागर ने कहा कि जिस समाज में एकता एवं बंधुत्व प्रगाढ़ होगा उस समाज की तरक्की तीव्र गति से होती है समस्याओं का समाधान होता है तथा उस समाज पर अत्याचार और नाजायज़ दबाव की दबंग जुर्रत नहीं कर पाते हैं तथा जन सहयोग की भावना भी प्रबल होती है । उन्होने कहा कि आज भारतीय संविधान एवं लोकतंत्र पर वर्तमान सरकारों द्वारा निरंतर हमला हो रहा है । यूपी में योगी सरकार अगले सत्र में नवीं कक्षा के पाठ्य क्रम में लोकतांत्रिक राजनीति नामक किताब शामिल करने जा रही है जिसमे भारतीय संविधान की रचना में बाबा साहब डॉ भीमराव अम्बेडकर जी के महान योगदानों को कमतर करके प्रस्तुत किया गया है जो इतिहास को तोड़ने मरोड़ने के समान है इसलिए इस किताब को पाठ्यक्रम में शामिल करने पर आपत्ति दर्ज करते हुये किताब को बैन करने का आह्वान किया एवं हाईकोर्ट में याचिका दायर किये जाने की बात कही ।समिति ने फर्रुखाबाद का नाम पांचाल नगर किये जाने का हिन्दू वाहिनी के प्रस्ताव का तीव्र विरोध कर कहा कि फर्रुखाबाद शहर को  बसाए जाने का अपना इतिहास है। उस इतिहास से छेड़ छाड़ किया जाना ठीक नहीं है । बैठक में  राम चन्द्र , केंद्रीय विद्यालय के सेवा निवृत प्रधानाचार्य राम पाल सिंह , सियाराम , मान सिंह , गजेन्द्र सिंह ने भी संबोधित किया । सभी वक्ताओं ने समिति के कार्यो एवं उद्देश्यों को सराह तथा समाज के लिये तन मन धन से सहयोग देने का वचन दिया । सभा का संचालन महेंद्र कठेरिया ने किया । समिति ने राम चन्द्र को सर्व सम्मति से समिति का उपाध्यक्ष मनोनीत किया । इस अवसर पर लाला राम कठेरिया , शिव प्रसाद , प्रेम सिंह , मेघ नाथ , दीवारी लाल , ,मुनीश बाबू , मान सिंह बौद्ध सिया राम सागर , गजेन्द्र सिंह अभिलाष जाटव , प्रमोद कुमार आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे ।

No comments:

Post a Comment