Latest News

18 Sep 2018

भूख से बिगड़ा हाल तो ट्रेन रोक स्टेशन पर जवानों ने जलाया चूल्हा : फरीदाबाद


फरीदाबाद। जम्मू से सोमवार रात रायपुर के लिए चले 1500 जवानों का जब भूख ने बुरा हाल कर दिया तो उन्होंने मंगलवार शाम फरीदाबाद स्टेशन पर सीआरपीएफ स्पेशल ट्रेन रोक चूल्हा जला दिया। आरोप है कि लोको पायलट के मना करने पर भी जवानों ने ट्रेन को चलने नहीं दिया। इसके बाद स्टेशन मास्टर से उन्होंने ट्रेन न चलाने का अनुरोध किया। जवानों का तर्क था कि वे 19 घंटे से भूखे सफर कर रहे थे। रास्ते में कहीं कुछ खाने या पीने को नहीं मिला इसलिए मजबूरी में उन्हें ट्रेन की चेन पुलिंग करनी पड़ी। इस दौरान मौके पर आरपीएफ, जीआरपी और रेलवे के अधिकारी भी पहुंच गए, लेकिन जवानों के अनुरोध पर मान गए।जवानों ने बताया कि सोमवार रात करीब 8:30 बजे उन्होंने जम्मू में खाना खाया था। इसके बाद उन्हें उच्च अधिकारियों ने बताया कि सांबा सेक्टर से सीआरपीएफ स्पेशल ट्रेन में बैठकर रायपुर के लिए जाना है। रास्ते में कहीं पर भी खाना नहीं मिलेगा। इसके चलते जवानों ने गैस-चूल्हे, कच्ची सब्जी, आटा, कढ़ाई, मसालों की व्यवस्था कर ट्रेन में रख ली। करीब 11 बजे ट्रेन सांबा से रायपुर के लिए चली। ट्रेन बीच-बीच में आउटर पर रुकती हुई मंगलवार शाम करीब चार बजे फरीदाबाद रेलवे स्टेशन के प्लैटफॉर्म नंबर-एक पर पहुंची। यहां स्पीड कम होते ही जवानों ने चेन पुलिंग कर दी। 
ट्रेन के रुकते ही 17 कोचों वाली ट्रेन से जवान उतरने लगे। उधर, तुरंत ही मौके पर आरपीएफ व जीआरपी के जवान भी पहुंच गए। इसके बाद जवानों ने उन्हें ट्रेन रुकवाने का कारण बताया। इस दौरान स्टेशन मास्टर ने कहा कि उन्हें ट्रेन रोकने के कोई आदेश नहीं है। लेकिन भूख-प्यास से तड़प रहे जवानों ने स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर-1 पर जगह-जगह गैस चूल्हे जला दिए। स्टेशन पर पानी की उचित व्यवस्था न होने पर हरियाणा पुलिस के एक जवान ने सबमर्सिबल चलवाया। इसके बाद जवानों ने बर्तन व कढ़ाई साफ करके सब्जी-पूड़ी व रोटियां बनानी शुरू कर दी। उधर, स्टेशन मास्टर केसी मीणा का कहना है कि लोको पायलट लोकेश मोहन ने उन्हें शिकायत दी है। हालांकि ट्रेन रुकने से अन्य दूसरी ट्रेनों या यात्रियों को कोई दिक्कत नहीं हुई। 

No comments:

Post a Comment