Latest News

22 Sep 2018

तालाब में डूब कर दो छात्रों की मौत : फतेहपुर


अमित कुमार सिंह,(फतेहपुर)। उत्तर प्रदेश फतेहपुर जिले के सदर कोतवाली क्षेत्र के त्रिलोकीपुर निवासी कैलाश नाथ और कैलाश नाथ का भाई दोनों भाइयो के बच्चे गाँव में ही स्थिति सरकारी प्राथमिक विधालय के कशा पांच के छात्र हैं। आज रोज की तरह दोनों विधालय पढ़ने के लिए गए ।मगर छुट्टी होने के बाद दोनों घर नहीं लौटे घर वापस न आने पर परिजनों को अपने बच्चो की चिंता सताने लगी परिवार वाले गाँव के लोगो से पहले अपने बच्चो की जानकारिया ली मगर कोई अता पता नहीं लगा तो परिजन स्कूल गए स्कूल में छुट्टी हो चुकी थी। बच्चे कही नज़र नहीं आये। परिजनों की धड़कने तेज हो गयी। स्कूल के इर्द गिर्द ढूंढ़ना शुरू किया स्कूल से लग भग दो सौ मीटर दूर पर जब परिजन ढूढ़ते हुए बच्चो को पहुंचे तो तालाब नुमा गढ्ढा किनारे स्कूल का बस्ता मिला बस्ता देख समझ गए। पानी की तरफ देखा तो बच्चो की तैरती लाश मिली ।लाश की खबर बिजली की तरह पूरे गाँव में फैल गयी देखते ही देखते जमावड़ा लग गया ।ग्रामीणों की मदद से जैसे तैसे बच्चो को बाहर निकाला गया। वही सुचना मिलते ही मौके पर जिला प्रशाशन ने पहुंच कर बच्चो के माता पिता का दुःख दर्द बाटतेहुए शव को पोस्मार्टम हाउस भेजने की कोशिश किया मगर परिजन इज़के लिए तैयार नही हुए।
वही ग्रामीणो ने बताया की इन मौतों का जिम्मेदार प्रधान और स्कूल प्रशाशन हैं। प्रधान ने अपनी दबंगई के बल पर यहां पर स्कूल के पीछे मिटटी खनन कराया जिस कारण यहां गहरे गढ्ढे तालाब के रूप धारण कर चुके हैं। हमने इसकी शिकायत पुलिस में भी की मगर हमारी कोई सुनाई नहीं हुयी। स्कूल पर्शाशन से भी शिकायत किया मगर वहां भी कोई सुनाई नहीं हुई।इन मौत का जिम्मेदार यहां का प्रधान और स्कूल प्रशाशन हैं। इनके खिलाफ सख्त से शक्त कारवाही होना चाहिए। वही मृतक छात्रों के पिता से बात की गयी उन्होंने बताया की मेरे बच्चे स्कूल पढ़ने गए थे। लौट कर घर नहीं आये हम लोग ढूढ़ने गए बच्चे का बस्ता देखा दोनों की तालाब में डूब कर मौत हो गई है।इस बारे में पहुंची तहसीलदार विधुति सिंह ने बताया की बच्चो की मौत का मामला है।फिर भी जांच कराई जाँच कराई जाएगी जो भी सहायता बनती हैं परिजनों को मुहैया करानी की कोशिश की जायगी।

No comments:

Post a Comment