Latest News

13 Jul 2019

पुलिस की सख्ती के आगे भारी पड़ा वकील साहब का रौब

लखनऊ। सड़क सुरक्षा को लेकर जिले में तमाम कोशिशें की जा रही है, लेकिन शहरवासियों को अपनी ही सुरक्षा का ख्याल नहीं। पुलिस जब उन्होंने पकड़ती है, तो वकील, सचिवालय जैसे तमाम पदों का रौब दिखाने लगते है। जब सड़क सुरक्षा के अभियान के तहत हजरतगंज चौराहे पर पुलिस व ट्रैफिक कर्मियों ने गाड़ी पर नंबर की जगह एडवोकेट लिखे होने पर रोका, उन्होंने उल्टा पुलिस को ही अदब में ले लिया। सड़क सुरक्षा पर मुख्यमंत्री की सख्ती और एसएसपी के आदेश के बाद शुक्रवार शाम से सड़कों पर फैंसी बाइक, पटाखा बुलेट, तेज आवाज हार्न, ईयरफोन चालकों के साथ यातायात नियम तोडऩे वालों के खिलाफ कार्रवाई तेज हुई। हजरतगंज चौराहे पर जब बिना नंबर के एडवोकेट लिखी गाड़ी को पुलिस ने रोका तो जनाब ने सचिवालय और वकील का रौब दिया। गाड़ी में पेपर तक न होने के बाद पुलिस ने दबाव में उन्हें जाने दिया। 
इस दौरान पुलिस पटाखा बुलेट पर खास सख्ती की। वहीं कई गाडिय़ों से फैंसी साइलेंसर उतरवा कर चालान किए। इस दौरान एक युवा ने पुलिसकर्मियों से कहा मेरा पूरा खानदान पुलिस में है, लेकिन मौके पर मौजूद सीओ व अन्य अधिकारियों उसका चालान काट दिया। इस दौरान यातायात कर्मियों ने एक पुलिसकर्मी के बेटे का भी चालान काटा। यातायात नियमों का पालन नहीं करने वाले 2362 लोगों के चालान किए गए। इसमें जिला पुलिस ने 1222 और यातायात पुलिस ने 1140 चालान किए, जिसमें बिना हेलमेट वाले 1035 चालान शामिल हैं। शुक्रवार को चालान से 1.92 लाख रुपये का शमन शुल्क वसूल किया गया। वहीं 12 वाहनों को पुलिस ने सीज भी किया।

No comments:

Post a Comment