Latest News

11 Jul 2019

ऑल विमन पीसीआर में तैनात महिला सिपाहियों ने पकड़ा फर्जी एसआई

नई दिल्ली। ऑल विमन पीसीआर में तैनात तीन सिपाहियों ने अपनी बहादुरी और समझदारी से एक फर्जी एसआई को पकड़ लिया। शक जाहिर करने पर तीनों महिला पुलिसकर्मियों को फर्जी एसआई ने डांट दिया था। मगर, पुलिसकर्मियों ने सूझ-बूझ दिखाते हुए फर्जी एसआई को उसकी बेल्ट और जूतों से पकड़ लिया। सिपाही अंजू, मंजू और किरण की इस दिलेरी और समझदारी के लिए उन्हें पुलिस अधिकारियों की ओर से इनाम भी दिया जाएगा। पकड़े गए फर्जी एसआई का नाम हार्दिक कौशिक है। 21 साल का हार्दिक 9वीं फेल है। वह दिल्ली पुलिस का फर्जी सब इंस्पेक्टर बनकर घूम रहा था। बुधवार शाम करीब 4 बजे वह करोल बाग मेट्रो स्टेशन के पास मौजूद था। ऑल विमन पीसीआर खड़ी थी। अचानक उनकी निगाह उस एसआई पर पड़ीं। उस वक्त उन्होंने उस फर्जी एसआई की बेल्ट और जूते नहीं देखे थे। अपने सीनियर अफसर को वहां घूमते देख तीनों और अलर्ट हो गईं। इसी दौरान, उनकी निगाह फर्जी एसआई के जूतों और बेल्ट पर पड़ी।
उन्हें शक हुआ। वर्दी के हिसाब से पहले तीनों ने एसआई को सल्यूट किया पर उनसे आने का मकसद और थाने में तैनाती के बारे में पूछा। इससे फर्जी एसआई भड़क उठा और उसने इन तीनों को जोर से डांट लगा दी। उसने कहा, ‘तुम्हें तमीज नहीं है। अपने सीनियर से ऐसी बात पूछने की तुम्हारी हिम्मत कैसे हुई। क्या सस्पेंड होना चाहती हो?’ तीनों ने हिम्मत दिखाते हुए कहा कि सस्पेंड करा देना, लेकिन पहले अपना परिचय दो, नहीं तो यहां से जाने नहीं देंगे। इसके बाद वह डर गया और वहां से भागने लगा। तीनों उसे पकड़ने के लिए उसके पीछे भागीं। कुछ दूरी तक पीछा करने पर उसे पकड़ लिया गया। लोकल पुलिस को बुलाकर उसे उनके हवाले कर दिया गया।

No comments:

Post a Comment