Latest News

14 Jul 2019

ऑपरेशन क्लीन में फर्जी नंबर प्लेट लगी मिली 49 गाड़ियां सीज

ग्रेटर नोएडा। जिले में ऑपरेशन क्लीन 12 के तहत  देर रात 12 से तीन बजे तक फर्जी नंबर प्लेट लगी गाड़ियों के खिलाफ व्हीकल एप की मदद से कार्रवाई की गई। जांच के दौरान गाड़ी की प्लेट पर अंकित नंबर को पुलिस ने व्हीकल एप से जांच कर सुनिश्चित किया कि नंबर सही है या फिर गलत। अभियान के तहत जिले के कुल 210 स्थानों को चिह्नित किया गया था, जहां देर रात वाहनों की पार्किंग होती है। इसमें नोएडा-ग्रेटर नोएडा की सोसायटी भी शामिल है। फर्जी नंबर प्लेट लगे मिले 38 दो पहिया व 11 चार पहिया वाहनों को सीज किया गया है। कुल 49 गाड़ियों के खिलाफ हुई कार्रवाई के बाद से सोसायटी व सेक्टर के लोगों ने हलचल मच गई है। आरडब्ल्यूए संगठन ने पुलिस से आग्रह किया था कि सेक्टर व सोसायटी में कई महीनों तक खड़ी रहने वाली लावारिश गाड़ियां के खिलाफ कार्रवाई की जाए।
दरअसल, पिछले चार साल से जिला पुलिस के लिए सिरदर्द बने नीली रंग की बलेनो सवार बदमाशों को दो महीने पहले पुलिस ने मुठभेड़ में पकड़ा था। दो बदमाशों के पैर में गोली लगी थी और एच्छर चौकी इंचार्ज पटनीश गोली लगने से घायल हुए थे। उन बदमाशों की गिरफ्तारी के बाद चौंकाने वाली बात सामने आई थी। पुलिस की पूछताछ में बदमाशों ने बताया था वह घटना करने के बाद बलेनो की नंबर प्लेट बदल देते थे और उसको किसी सेक्टर या सोसायटी में लावारिश हालत में खड़ी कर देते थे। जिससे कि पुलिस उन तक नहीं पहुंच पाए। इस बात को ध्यान में रखकर ऑपरेशन क्लीन 12 के तहत शुक्रवार देर रात फर्जी नंबर प्लेट लगी मिली गाड़ियों के खिलाफ कार्रवाई की गई। 15 टीमों ने चलाया अभियान : शुक्रवार देर रात चलाए गए अभियान में 15 टीमों का गठन किया गया था। एक टीम में पांच पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई गई थी। तीन घंटे के अभियान में टीम ने सर्च अभियान चलाया। सोसायटी व सेक्टर की पार्किंग में अवैध रूप से खड़ी रहने वाली गाड़ियां जिन पर फर्जी नंबर प्लेट लगी मिली है। उनके खिलाफ सीज की कार्रवाई की गई है। ऐसा अभियान आगे भी जारी रहेगा। वैभव कृष्ण, एसएसपी, गौतमबुद्ध नगर

No comments:

Post a Comment