Latest News

25 Jun 2019

अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति संघर्ष समिति ने दलितों व गरीबों की समस्याओं के निदान के लिए जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन

ज्ञान प्रकाश शर्मा,(फर्रूखाबाद)।  समिति के अध्यक्ष राकेश कुमार सागर, पू्र्व सूबेदार के नेतृत्व में जिलाधिकारी को दलित बस्ती ग्राम बंधौआ, नगला पीतम एवं नगला राजन में भारी गंदगी और नालियों के गंदे पानी के जल भराव एवं भू माफियाओं द्वारा ग्राम सभाओं की सरकारी जमीन पर अवैध कब्जे कर नगरपालिका की मिलीभगत से बोगस कागजों द्वारा हो रही खरीद फरोख्त के बारे में अवगत कराकर तत्काल उचित कार्यवाही की मांग की गई ।  श्री सागर ने बताया कि जिला मुख्यालय से मात्र तीन किलोमीटर की दूरी पर ग्राम बंधौआ स्थति दलित बस्ती में 2010 में लाखों रुपए खर्च कर प्रदेश सरकार द्वारा निर्मित स्वास्थ्य उपकेंद्र सालों साल से बंद चल रहा है जिसकी वजह से आज उक्त स्वास्थ्य उपकेंद्र की इमारत भी खंडहर में तब्दील होने के कगार पर है ।  स्वास्थ्य केंद्र के प्रांगण में नालियों के गंदे पानी के भारी जल भराव के चलते वहां रह रही गरीब जनता तमाम संक्रमण और बीमारियों से जूझ रही है ।  स्वास्थ्य उपकेंद्र के पास पड़ी खाली सरकारी जमीन पर भी भू माफियाओं ने कब्जा कर लिया है। उन्होंने जिलाधिकारी से इस दलित बस्ती का और वहां बने उक्त स्वास्थ्य उपकेंद्र का निरीक्षण करने तथा जनहित में जल्द से जल्द इसका संचालन सुनिश्चित करने का अनुरोध करते हुए कहा कि आपके निरीक्षण करने और स्वास्थ्य उपकेंद्र का संचालन सुनिश्चित करने से आप गरीबों की सेहत सुधारने के साथ ही उनके द्वारा अपने स्वास्थ्य पर किए जा रहे बेतहाशा खर्च को बचाकर उनकी आर्थिक स्थिति भी सुधरने में मदद कर सकतीं हैं ।  ग्राम बंधौआ और नगला पीतम के बीच में तालाब, कब्रिस्तान एवं 40 फुटा नाले की ग्राम समाज की तमाम सरकारी खाली पडी जमीन पर माफियाओं ने अवैध रूप से कब्जा कर रखा है ।  भू माफिया बोगस कागज पत्रों के जरिए ग्राम समाज की जमीन की खरीद फरोख्त कर रहे हैं। 
श्री सागर ने जिलाधिकारी से अनुरोध किया कि इस क्षेत्र की जमीन की सही पैमाइश करा कर ग्राम समाज की जमीन और तालाब (जो रिकॉर्ड में सिन्नी तलैया के नाम से दर्ज है) एवं कब्रिस्तान को भू माफियाओं के कब्जे से मुक्त कराने हेतु समुचित कदम उठाकर क्षेत्र की जनता को राहत दिलाएं व ग्राम बंधौआ स्थित बाल्मीकि बस्ती के साथ साथ नगला पीतम, नगला राजन आदि दलित बस्तियों में शासन द्वारा तैनात सफाई कर्मी सालों साल से सफाई कार्य करते नहीं देखे गए हैं जिसकी वजह से इन दलित बस्तियों में भारी गंदगी नालियों के जल भराव के कारण यहां के निवासी स्वास्थ्य संबंधित तमाम समस्याओं से बच्चे, बूढ़े और जवान जूझ रहे हैं । तैनात सफाई कर्मियों व जिम्मेदार सरकारी कर्मचारियों को आदेशित कर इन दलित बस्तियों में रेगुलर साफ सफाई सुनिश्चित कर गरीब जनता को गंदगी और बीमारियों से निजात दिलाने का अतिशीघ्र कष्ट करें।  इस मौके पर समिति के बरिष्ठ उपाध्यक्ष रामचन्द्र एवं  रघुवीर सिंह कठेरिया , सचिव डालचंद कठेरिया, राधेश्याम सत्यार्थी, रामशरन लाल,  लालमणि बाल्मीकि,  शिशुपाल सिंह जी,  राम प्रकाश सागर,  सुल्तान सिंह, गिरीश बाबू,  नागेन्द्र बाल्मीकि,  राधेश्याम कठेरिया,  शमशी लाल बाल्मीकि, जगदीश प्रसाद बाल्मीकि एवं गौरव कुमार बगैरह प्रमुख रूप से मौजूद रहे ।

No comments:

Post a Comment