Latest News

13 Jun 2019

फर्जी दस्तावेजों से बनवाए क्रेडिट कार्ड

ग्रेटर नोएडा। बिसरख पुलिस ने लोगों के बैंक अकाउंट में क्रेडिट कार्ड बनाकर सेंध लगाने वाले दो लोगों को गिरफ्तार किया है। ये दोनों एक बैंक में सेल्स एक्जीक्यूटिव रह चुके हैं। नौकरी के दौरान इन लोगों ने एक व्यक्ति के सभी दस्तावेज जुटा लिए थे। उसके बाद अलग-अलग बैंक से 10 से अधिक क्रेडिट व डेबिट कार्ड बनवाकर 11 लाख रुपये की शॉपिंग व कैश निकाल लिया। उन्होंने बैंक वेरिफिकेशन कराने के लिए गाजियाबाद में किराए पर कमरा लिया था। पुलिस ने दोनों के पास से एक लैपटॉप, 10 डेबिट व क्रेडिट कार्ड और आधार कार्ड बरामद किया है।बिसरख कोतवाली प्रभारी मनोज पाठक ने बताया कि कपिल कौशिक ग्रेनो वेस्ट महागुन माईवुड सोसायटी में रहते हंै। वह मूलरूप से निवासी प्रताप विहार गाजियाबाद के रहने वाले है । 
 उन्होंने 9 जून को साइबर सेल आॅफिस में शिकायत की थी कि उनके पास 11 लाख रुपये डेबिट व क्रेडिट कार्ड का बिल आया है, जबकि उन्होंने शॉपिंग व रुपये निकाले ही नहीं है। उनकी शिकायत के बाद साइबर सेल की टीम ने बैंकों द्वारा फोन कर वेरिफिकेशन कराने कराने वालों को मोबाइल ट्रेकिंग कर दोनों को अच्छेजा के पास केशवपुरम सोसायटी से 10 जून को शाम 7:30 बजे गिरफ्तार किया है। दोनों की पहचान रवि कुमार निवासी दयानंद नगर गाजियाबाद व राहुल कुमार निवासी केशवपुराम सोसायटी अच्छेजा के रूप में हुई है। दोनों के पास से 10 से अधिक डेबिट व क्रेडिट गार्ड, एक पेन कार्ड, दो मोबाइल, 4 मोबाइल सिम कार्ड, 5 आधार कार्ड समेत कई दस्तावेज बरामद किए हैं।साइबर सेल प्रभारी ने बताया कि दोनों आरोपित एक बैंक में सेल्स एग्जीक्यूटिंग थे। बैंक में आने वाले लोगों को पैन कार्ड से लेकर तमाम डाक्यूमेंट की डिटेल प्राप्त कर लेते थे। एक साल पहले दोनों ने नौकरी छोड़ दी और डेबिट व क्रेडिट कार्ड बनवाकर फर्जीवाडे में जुट गए।

No comments:

Post a Comment