Latest News

13 Jun 2019

नगर शिक्षा अधिकारी कार्यालय में घुसकर सह समंवयक को चाकुओं से गोदा

गाजियाबाद। कविनगर स्थित खंड शिक्षा अधिकारी नगर क्षेत्र कार्यालय में घुसकर दिनदहाड़े बदमाशों ने एक सह समंवयक व राइट गज जूनियर हाई स्कूल के हेड मास्टर लईक अहमद को चाकू मारकर गंभीर रूप से घायल कर दिया। खून से लथपथ लईक अहमद को कविनगर स्थित सर्वोदय अस्पताल में भर्ती कराया गया है,जहां उनकी हालत गंभीर बनी हुई है। मौके पर पहुंची कविनगर पुलिस चाकू मारने की घटना को आपसी रंजिश का मामला बताकर जांच पड़ताल करने में जुटी है। कविनगर सी ब्लॉक स्थित प्राथमिक विद्यालय कविनगर परिसर में खंड शिक्षा अधिकारी नगर क्षेत्र का कार्यालय है। इसमें चार जोन के खंड शिक्षा अधिकारी व अन्य स्टॉफ बैठता है। गुरुवार को दोपहर करीब पौने दो बजे दिन दहाड़े पांच बदमाश कार्यालय में आए। इसमें से दो बदमाश कार्यालय में भीतर आए और शेष तीन बाहर गेट पर ही रूक गए। जिस दौरान बदमाश कार्यालय में आए , उस समय बाबू इमरान कंप्यूटर पर कार्य कर रहे थे,जबकि बड़े बाबू आदित्य खाना खाकर टिफिन थैले में रख रहे थे। दोनों बदमाशों में से एक बदमाश जो करीब छह फुट लंबा था, उसने आते ही कुर्सी पर बैठे लईक अहमद से उनके बारे में पूछा।उन्होेंने बताया कि वह ही लईक अहमद है। इस पर बदमाश ने उनसे बाहर आने को कहा कि दाखिले के संबंध में बातचीत करनी है। लईक अहमद ने कहा कि बातचीत करनी है तो यही करो। इतना कहते ही बदमाश ने चाकू निकालकर ताड़तोड़ उन पर हमला कर दिया। चेहरे के दोनों गाल व जांघ के चाकू के वार से वह लहूलुहान हो गए। अन्य लोग जब तक कुछ समझ पाते बदमाश फरार हो। तुरंत ही कविनगर पुलिस को फोन करने मामले की सूचना दी गई। कविनगर थाना प्रभारी राजकुमार शर्मा ने मौके पर पहुंच कर पीड़ित को घायल अवस्था में सर्वोदय अस्पताल में भर्ती कराया। उन्होंने बताया कि मामला फिलहाल आपसी रंजिश का लग रहा है। दरअसल, लईक अहमद सह समंवयक, राइट गंज जूनियर हाई स्कूल में हेड मास्टर के पद पर कार्य करने के साथ साथ ही उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षा संघ की गाजियाबाद महानगर शाखा के महामंत्री भी हैं। दिनदहाड़े चाकू मारने की घटना को लेकर अनेक तरह की चर्चा है,लेकिन अभी विभाग का भी कोई कुछ बोलने को तैयार नहीं है। फिलहाल, एक्सपर्ट टीम ने खून के सैंपल व फर्श का सैंपल लिया है जिस पर खून के धब्बे थे।
बिजली कटी होने से सीसीटीवी कैमरे का नहीं मिला फायदा
कहने के लिए कार्यालय में सीसीटीवी कैमरे लगा हुआ है,लेकिन बिजली का बिल जमा नहीं होने के कारण दो दिन पहले ही बिजली कनेक्शन काट दिया गया था। इस कारण सीसीटीवी का कोई फायदा नहीं मिल सका।

No comments:

Post a Comment