Latest News

13 Jun 2019

लापता ट्रैक्टर चालक की हत्या कर शव गंगा की रेती में दबाया

फर्रुखाबाद। एक माह पहले लापता ट्रैक्टर चालक की हत्या कर शव आरोपितों ने गंगा की रेत में दबा दिया। परिजनों की शिकायत पर हरकत में आई पुलिस ने ट्रैक्टर मालिक समेत दो लोगों को हिरासत में ले लिया। उन्होंने शव दबाने की पुष्टि करते हुए बताया कि उसकी मौत बीमारी से हुई थी। फंसने के डर की वजह से उन्होंने चुपचाप शव दबा दिया। बुधवार को पुलिस गंगा में कई घंटे खाक छानने के बाद लौट गई। जनपद कन्नौज कोतवाली गुरसहायगंज के गांव मुर्रा निवासी भंवरपाल कठेरिया का 20 वर्षीय पुत्र अरुण कठेरिया कुछ दिनों से मऊदरवाजा क्षेत्र के गांव पचपुखरा में अपने नाना मेवाराम कठेरिया के पा रह रहा था। अरुण गांव के ही लालू उर्फ छोटेलाल बाथम का ट्रैक्टर चलाता था। 10 मई की रात से अरुण लापता हो गया था। उसके पिता ने हत्या की आशंका जताकर पुलिस को प्रार्थनापत्र दिया, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई।
इसके बाद एसपी से फरियाद की तो पुलिस हरकत में आई। ट्रैक्टर मालिक के अलावा उसके पुत्र सचिन, गांव गयादीन की मड़ैया निवासी मुनेश्वर यादव के पुत्र पुष्पेंद्र यादव से पुलिस ने पूछताछ शुरू की। पुष्पेंद्र यादव व छोटेलाल ने बताया कि 10 मई की रात मातादीन की मड़ैया निवासी दिनेश यादव के खेत में गेहूं की मढ़ाई हो रही थी। वहीं अरुण की तबियत बिगड़ी तो उसने मोहल्ला सलावत खां में एक झोलाछाप के दवा दिलाई। रात में पुष्पेंद्र की मौत हो गई। कानून पचड़े में फंसने के डर से दूसरे दिन अरुण का शव गांव हबीब नगर पंखियन की मड़ैया से गंगा पार कर थाना राजेपुर क्षेत्र के गांव लायकपुर सबलपुर में गंगा की रेती में दबा दिया। मऊदरवाजा एसओ फोर्स लेकर आरोपितों के साथ गंगा किनारे पहुंचे। उन्होंने गोताखोरों को बुलाकर गंगा में तलाश कराई, लेकिन शव नहीं मिल सका। अरुण के पिता व परिजन भी शव मिलने की उम्मीद में गंगा तट पर डटे रहे।

No comments:

Post a Comment