Latest News

2 Mar 2019

एक महीने के बच्चे का 15 दिन में 2 बार खतना, मौत

गुड़गांव। पिनगवां खंड के एक गांव में एक महीने के बच्चे का फर्जी डॉक्टर के खतना करने से मौत का मामला सामने आया है। बच्चे के परिवारीजनों ने बताया कि 60 वर्षीय फर्जी डॉक्टर ममरेज ने करीब 15 दिन पहले बच्चे का पहली बार खतना किया था। 27 फरवरी को ममरेज पड़ोस में एक बच्चे का खतना करने पहुंचा।आरोप है कि ममरेज 15 दिन पहले किए गए खतना में कमी बताते हुए दोबारा उसी बच्चे का खतना कर दिया। इसके बाद उसका ब्लड बंद नहीं हुआ। हालात खराब होने पर बच्चे को पास के अस्पताल ले जाया गया।
वहां से नल्हड़ मेडिकल कॉलेज के लिए रेफर कर दिया गया। यहां बच्चे की तबीयत ज्यादा खराब होने पर दिल्ली रेफर किया गया, जहां उसकी गुरुवार सुबह मौत हो गई। पिनगवां थाना इंचार्ज शमसुद्दीन ने बताया कि हमें कोई शिकायत नहीं मिली है।सर्जन डॉ. गुलशन चावला ने बताया कि अज्ञानता की वजह से लोग झोलाझाप डॉक्टरों के पास जाते हैं। ब्लीडिंग रोकने के लिए ऐसे लोग राख का प्रयोग करते हैं, जिससे इंफेक्शन होता है। हमेशा किसी क्वॉलिफाइड सर्जन से ही खतना कराना चाहिए और सर्जरी के सभी औजार भी साफ होने चाहिए। 

No comments:

Post a Comment