Latest News

28 Feb 2019

कान्हा नैशनल पार्क में दूसरे बाघों को मारकर खा रहा बाघ, हैरान विशेषज्ञ

भोपाल। मध्य प्रदेश के कान्हा नैशनल पार्क में एक बाघ ने दूसरे बाघों को खाना शुरू कर दिया है। दो बाघों को खा चुके इस बाघ के 19 जनवरी को एक बाघिन को भी मारकर खा जाने की आशंका है। इस अजीब व्यवहार से हैरान मध्य प्रदेश के वाइल्डलाइफ विभाग ने इसपर शोध की शुरुआत की है। सुरक्षित स्थानों पर बाघों के ऐसे व्यवहार को समझा जा रहा है। अधिकारियों का कहना है कि बाघ दूसरे बाघों को मारते तो हैं लेकिन खाने की घटना काफी हैरान करने वाली है। खासकर ऐसे में जब जंगल में शिकार की कोई कमी नहीं है। पट्रोल कर रहे स्क्वॉड ने बुधवार को बाघ को अपने शिकार को खाते हुए देखा था। पार्क के कन्हेरी इलाके में मंगलवार सुबह 9:20 बजे को दो बाघों के शव मिले थे जिन्हें खाया जा चुका था और बाघ उनके ऊपर बैठा था। 
जनवरी में अधिकारियों को एक बाघिन के अवशेष मिले थे। मुंडीदादर में उसका खोपड़ी और पंजे के निशान मिले थे। अधिकारियों ने इस बात की पुष्टि की थी कि बाघिन को किसी बाघ ने ही मारकर खा लिया है। वे इस बात से हैरान रह गए थे, क्योंकि इस इलाके में शिकार की अच्छी संख्या है। उस वक्त माना गया था कि यह एक अकेला अनोखा हादसा रहा होगा लेकिन अब दो और बाघों को मारकर खाए जाने से चिंता पैदा हो गई है।वन अधिकारियों, वर्ल्ड वाइल्डलाइफ फंड और वाइल्ड ट्रस्ट ऑफ इंडिया के एक्सपर्ट्स ने इलाके का सर्वे कर जनवरी की घटना पर रिपोर्ट जमा की है। एक्सपर्ट ने कहा कि बाघ ने भूख शांत करने के लिए बाघिन को मारकर नहीं खाया। यह इलाके पर प्रभुत्व की लड़ाई का आगे बढ़ चुका स्वरूप है। 

No comments:

Post a Comment