Latest News

6 Jan 2019

एक्सटॉर्शन के लिए कुख्यात, मकोका में वॉन्टेड शम्मी गिरफ्तार : नई दिल्ली

नई दिल्ली। पुलिस एनकाउंटर में मारे जा चुके श्रीप्रकाश शुक्ला, सीरिया पहलवान, बंटी गुर्जर जैसे 'अंडरवर्ल्ड डॉन' की संगत में दिल्ली से मुंबई तक क्राइम 'रेकॉर्ड' बनाने वाले सुरेंद्र सिंह सोढ़ी उर्फ शम्मी (45) को स्पेशल सेल ने अरेस्ट कर लिया है। उसके ऊपर दिल्ली पुलिस ने मकोका लगाकर 50 हजार रुपये का इनाम रखा था। तब से कई पुलिस टीमें शम्मी की तलाश में थीं।स्पेशल सेल के डीसीपी प्रमोद कुशवाह ने शम्मी की गिरफ्तारी की पुष्टि की। उन्होंने बताया कि एसीपी अतर सिंह और इंस्पेक्टर चंद्रिका प्रसाद व अमूल त्यागी की टीम ने शम्मी को कल तड़के मोती नगर इलाके से अरेस्ट किया। उसके पास से .32 बोर की सेमी ऑटोमैटिक पिस्टल और पांच कारतूस रिकवर हुए हैं। 
सोढ़ी बन गया शम्मी 
शम्मी दिल्ली के शकरपुर थानाक्षेत्र का घोषित बदमाश (बीसी) है। घर धर्मशाला वाली गली है। उस पर हत्या, हत्या की कोशिश, उगाही जैसे एक दर्जन केस दर्ज हैं। एक पुलिस अधिकारी के अनुसार, शम्मी अपने क्रिमिनल रेकॉर्ड के बूते बिजनेसमैन से उगाही के लिए कुख्यात रहा है। इसी चक्कर में कुछ समय पहले उस पर मकोका लगाई गई। वह कई साल पहले भी स्पेशल सेल के हत्थे चढ़ा था, लेकिन थमा नहीं था। पुलिस अधिकारी का मानना है कि शम्मी जब-जब जेल से निकला और ज्यादा ऐक्टिव हो गया। दरअसल शम्मी उन बदमाशों में है, जो मानते हैं कि जितना बड़ा क्रिमिनल रिकॉर्ड, उतनी ज्यादा उगाही। ईस्ट दिल्ली के तमाम बिजनेसमैन उसकी जद में आ चुके हैं। लेकिन पुलिस का मानना है कि इस बार की गिरफ्तारी उसे भारी पड़ेगी। मकोका में अरेस्ट होने से जमानत मिलना तक दुश्वार होगा। सजा भी कड़ी होगी। 
पुलिस अधिकारियों की शह 
सूत्रों का कहना है कि सुरेंद्र सोढ़ी को 'शम्मी' बनाने में बिल्डर माफिया और कुछ पुलिस अधिकारियों की शह रही है। सूत्रों का कहना है कि शम्मी की दिल्ली पुलिस के कुछ अफसरों से गहरी छनती है। उनमें एक एसीपी स्तर के अधिकारी भी हैं, जो दशकों से यमुनापार में प्रमुख पदों पर रहे। शम्मी को शह देने में उनका बड़ा हाथ रहा। आरोप है कि शम्मी ने बिल्डर माफिया और पुलिस के गठजोड़ से करोड़ों की प्रॉपर्टी के कई सौदों में दखल दिया। लोगों को धमकाया और हमले भी किए। 

No comments:

Post a Comment