Latest News

6 Jan 2019

स्टूडेंट्स का आरोप, कठिन सवाल पूछने पर शिक्षा मंत्री ने दिया गिरफ्तारी का आदेश : महाराष्ट्र

मुंबई। महाराष्ट्र के अमरावती जिले में कुछ मीडिया स्टूडेंट्स ने प्रदेश के शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े पर उन्हें गिरफ्तार करने का आदेश देने का आरोप लगाया है। छात्रों का कहना है कि उन्होंने मंत्री विनोद तावड़े से राज्य में मुफ्त शिक्षा को लेकर सवाल किया था, जिसपर मंत्री भड़क गए और उन्होंने पुलिस को छात्रों की गिरफ्तारी कराने का आदेश दे दिया। इसके बाद पुलिस ने एक छात्र को गिरफ्तार कर लिया और काफी देर तक उसे हिरासत में रखा। इस दौरान अधिकारियों ने छात्र का स्मार्टफोन भी जब्त कर लिया। दरअसल, विनोद तावड़े शनिवार को महाराष्ट्र के अमरावती स्थित एक कॉलेज में भाषण प्रतियोगिता का उद्घाटन करने के लिए गए थे। कार्यक्रम को संबोधित करने के बाद जब वह वापस लौटने लगे तो कुछ मीडिया स्टूडेंट्स ने उनके वाहन के नजदीक पहुंचकर उनसे फ्री एजुकेशन पॉलिसी के मुद्दे पर सवाल किया। कॉलेज के छात्र प्रशांत के मुताबिक, सवाल सुनने पर शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े ने कहा कि अगर मैं शिक्षा का खर्च नहीं वहन कर सकता, तो मुझे कहीं कुछ काम करना शुरू कर देना चाहिए। प्रशांत ने कहा कि उन्होंने मंत्री से फ्री एजुकेशन पॉलिसी के मुद्दे पर सवाल पूछा था, जिसपर मंत्री ने यह जवाब दिया।
विडियो रिकॉर्डिंग करने वाले छात्र की गिरफ्तारी 
प्रशांत ने कहा कि विनोद तावड़े और उनकी बातचीत के दौरान युवराज दबाड नाम का उनका एक साथ पूरी घटना की विडियो रिकॉर्डिंग कर रहा था। जब मंत्री ने युवराज को विडियो बनाते देखा तो उन्होंने पहले तो उसे ऐसा करने से मना किया और फिर पुलिस को उसे गिरफ्तार करने के आदेश दे दिए। युवराज दाबड़ ने कहा कि मंत्री सवालों का जवाब नहीं दे रहे थे और इसीलिए उन्होंने उन्हें रिकॉर्डिंग करने से मना किया। 
दो घंटे बाद पुलिस ने लौटाया स्मार्टफोन 
युवराज ने आरोप लगाया कि कि विनोद तावड़े ने पुलिस को उन्हें गिरफ्तार करने का आदेश दिया था, जिसके बाद उन्हें परिसर से बाहर ले जाया गया और कुछ समय हिरासत में रखा। बाद में करीब दो घंटे बाद पुलिस ने छात्र को उनका फोन वापस कर दिया। वहीं पूरी घटना के बाद मीडिया ने विनोद तावड़े से उनका पक्ष जानने की कोशिश भी की, लेकिन वह बयान देने के लिए उपलब्ध नहीं हो सके। 

No comments:

Post a Comment