Latest News

22 Jan 2019

स्वतन्त्रता संग्राम सेनानियों ने अपनी जवानी ही नहीं पूरी जिंदगी ही देश के नाम की : राकेश सागर

 राकेश सागर
कुलदीप अवस्थी,(फर्रूखाबाद)। उत्तर प्रदेश काँग्रेस कमेटी के अनुसूचित विभाग के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष व अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जन जाति संघर्ष समिति के अध्यक्ष पूर्व सूबेदार  राकेश सागर ने कहा कि गोडसे पूजकों व अंधभक्तों को नहीं है मालूम कि देश को आज़ादी दिलाने वाले स्वतंन्त्रता संग्राम सेनानियों ने अपनी जवानी ही नहीं बल्कि पूरी जिंदगी ही देश के नाम कर दी थी।  यह कहना अतिश्योक्ति नहीं होगा कि देश के सभी पूर्व प्रधानमंत्रियों ने लगभग हर रोज 18 से 20 घंटों तक काम किया ।  पंडित नेहरू ने तो आजादी की जंग के दौरान अपनी जवानी के 19 साल देश की कई जेलों में बिताए और इंदिरा गांधी भी जेल गईं थीं ।  देश के ऐसे महान नेताओं पर जिन पर दुनियां नाज करती है तथा जिन्होंने न केवल विश्व के इतिहास में श्रेष्ठ भारत की दमदार धर्मनिरपेक्ष नीति का वजूद दर्ज किया बल्कि विश्व का भूगोल भी बदला है ।
आज इन महान नेताओं पर बेबजह उंगली उठाने वाले लोग स्वयं को 18 घंटों तक काम करने वाला बताकर जनता को मूर्ख बनाने का काम कर रहे हैं ।  जबकि हकीकत यह है कि वह अपने करीबी दोस्तों व अपनी पार्टी के लिए ज्यादा तथा देश व देश की जनता के लिए कम काम कर रहे हैं।  यदि ऐसा न होता तो बिना किसी खास उपलब्धियों के वर्ल्ड टूर नहीं हुआ होता और इन लोगों को अपने तमाम फैसलों पर पल्टियां भी नहीं मारनी पड़तीं तथा नोटबंदी व जीएसटी को लागू करने में भी सैकड़ों बदलाव नहीं हुए होते और घोटाले भी नहीं होते ।  इसके साथ ही सरकार की तमाम योजनाएं हवा हवाई न होकर आज जमीन पर भी दिखाई देतीं और देश की जनता भी लाभान्वित हुई होती जो बिल्कुल नहीं हुआ जिसके चलते ही आज देश की जनता स्वयं को ठगा हुआ महसूस करती है ।

No comments:

Post a Comment