Latest News

31 Jan 2019

प्रेमी जोड़ों को सुरक्षा देनेवाले ‘लव कमांडो’ की कैद से छुडा़ए गए चार जोड़ों ने सुनाया अपना दर्द

नई दिल्ली। ऑनर किलिंग के डर से सहमे प्रेमी जोड़ों को सुरक्षा देनेवाले ‘लव कमांडो’ की कैद से छुडा़ए गए चार जोड़ों ने अपनी आपबीती सुनाई। उन्होंने बताया कि कैसे उन्हें बासी खाना दिया जाता था और लड़कियों के साथ बदसलूकी की जाती थी। शेल्टर होम से छुड़ाए गए 26 साल के एक लड़के का कहना है कि टीवी प्रोग्राम 'सत्यमेव जयते' में लव कमांडो की टीम को देखकर उन्होंने इस एनजीओ से संपर्क किया। वह कहते हैं, मेरी पत्नी के घरवाले शादी के सख्त खिलाफ थे, उनकी राजनीतिक पहुंच बहुत ऊपर तक है। इसलिए हमने यहां आश्रय लिया। मगर यहां जिंदगी और बदतर हो गई।उनका कहना है, यहां लड़कों को पीटा जाता था, रोजाना गालियां दी जाती थीं, जबर्दस्ती वाइन पिलाई जाती थी, तीन-तीन घंटे पैर दबवाए जाते थे। एनजीओ की वेबसाइट और यूट्यूब से हमें पता चला था कि इनकी सुविधाएं फ्री हैं, मगर ये पैसे मांगते रहे। मैंने खुद 55 हजार रुपये दिए हैं। मुझे तीन बार टाइफाइड हुआ, इस दौरान मुझसे काफी पैसे ऐंठे गए जबकि इलाज किसी सही डॉक्टर से नहीं करवाया गया। उन्होंने बताया, हम ढाई महीने से इस होम हैं। हमें बासी खाना दिया जाता था। 7 दिन पुराना खाना भी दिया जता था। सुबह 5 बजे से काम करवाया जाता था। अगर कोई गलती हुई तो पत्नियों के आगे गालियां सुनाई जाती थीं। इस शेल्टर होम के तीन कुत्तों की हालत हमसे बहुत बढ़िया थी। उनके लिए रोजाना चिकन, अंडे दिए जाते थे और अगर हमने अपनी बासी रोटी कुत्तों को दे दी, तो हमारी शामत आ जाती थी। लड़के का कहना है कि एनजीओ के चेयरमैन को बाबा और बाकी मेंबर्स को पापा बुलाना पड़ता था। शेल्टर होम के सामने इनका प्राइवेट हाउस था, वहां भी काम करना पड़ता था। यहीं से राशन शेल्टर होम में जाता था। पांच लोगों का स्टाफ था। 
शेल्टर होम से भागे क्यों नहीं, इस पर लड़के का कहना है कि उनका आधार कार्ड, सर्टिफिकेट, मैरेज सर्टिफिकेट स्टाफ ने जब्त कर लिए थे और हमें धमकाते थे कि पुलिस में दे देंगे, परिवारवालों को कॉल कर देंगे। लड़के का कहना है कि हाल ही में मेरी पत्नी के घरवाले हथियार लेकर होम पहुंच गए थे, ऐसे में ये कुछ नहीं कर पाए। हमने किसी तरह से उन्हें रफा-दफा किया। बता दें गंभीर आरोप के साथ दिल्ली महिला आयोग ने चार जोड़ों को इस एनजीओ के पहाड़गंज के शेल्टर होम से छुड़वाया है। लव कमांडोज के स्टाफ पर मारपीट, गालियां देने, जबरन शराब पिलाना, लड़कियों के साथ बदसलूकी, डॉक्युमेंट्स जब्त करने, धमकाने और उगाही के आरोप हैं। सभी आठ लोग दूसरे शेल्टर होम में भेज दिए गए हैं। 

No comments:

Post a Comment