Latest News

17 Jan 2019

सेप्टिक टैंक में गिरकर 8 साल की बच्ची की मौत : गाजियाबाद

खोड़ा। कला एन्क्लेव कॉलोनी में बुधवार दोपहर सेप्टिक टैंक में गिरने से 8 साल की बच्ची की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि 8 फीट गहरे सेप्टिक टैंक की सफाई के लिए इसका ढक्कन हटाया गया था। इसी दौरान यह हादसा हो गया। परिवार के लोगों और सफाई कर्मचारियों ने बच्ची को टैंक से बाहर निकालने की काफी जद्दोजहद की, लेकिन वे कामयाब नहीं हो पाए। अंत में मशीन से टैंक को खाली करवाकर बच्ची को बाहर निकाला गया, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। परिवार वालों ने फिलहाल कोई पुलिस शिकायत नहीं दी है। कला एन्क्लेव कॉलोनी में रहने वाले अति उल्लाह दिल्ली एमटीएनएल में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी थे। 31 दिसंबर को वह रिटायर्ड हुए थे। उन्होंने बताया कि उनकी एक बेटी का 4 साल पहले तलाक हो चुका है। उसकी 8 साल की बेटी रुकसार बानो उनके साथ ही गांव में रहती थी। अति उल्लाह ने बताया कि रिटायरमेंट पार्टी के लिए सभी रिश्तेदार खोड़ा पहुंचे थे। मुंबई में रहने वाली उनकी पत्नी मोहम्मद नीशा उनकी नाती रुकसार को अपने साथ खोड़ा लेकर पहुंची थीं। 
बुधवार दोपहर करीब 1 बजे घर की गैलरी में बने सेप्टिक टैंक की सफाई का काम चल रहा था। इस वजह से इसका ढक्कन खुला था। सभी लोग घर के काम में लगे थे। तभी रुकसार खेलते हुए बाहर आई और टैंक में गिर गई। बच्ची को टैंक में गिरते देख सभी उसे बचाने दौड़े, लेकिन मैनहोल का साइज छोटा होने के कारण कोई अंदर नहीं जा सका। बाद में सीवर साफ करने वाली मशीन से सेप्टिक टैंक को खाली किया गया और एक सफाई कर्मचारी टैंक में उतारा। करीब 15 मिनट बाद रुकसार को निकाला गया, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। उन्होंने बताया कि रुकसार को नानी के साथ मुंबई लौटना था, लेकिन टिकट नहीं मिल पाने के कारण दोनों नहीं जा पा रहीं थीं। अति उल्लाह ने बताया कि दिल्ली में नौकरी के कारण करीब 20 साल पहले उन्होंने खोड़ा में घर खरीदा था। गली में इंटरलॉकिंग टाइल्स लग जाने के कारण सड़क ऊंची हो गई और उनका घर नीचे हो गया था। इस कारण सेप्टिक टैंक पर करीब 5 फीट ऊंची दीवार कर उसके मैनहोल को ऊपर किया था। 

No comments:

Post a Comment