Latest News

14 Jan 2019

20 साल पहले लापता हुआ दरोगा का बेटा, दर-दर भटके, अब रिपोर्ट दर्ज : गाजियाबाद

गाजियाबाद। गाजियाबाद में एक शख्स के लापता होने के 20 साल बाद यूपी पुलिस ने अब जाकर किडनैपिंग का केस दर्ज किया है। हैरानी की बात यह है कि शिकायती देवीचंद खुद पुलिस विभाग के दारोगा रहे हैं। दर्जनों चक्कर काटने के बाद भी उनकी एफआईआर दर्ज नहीं हो सकी। शनिवार को देवीचंद ने पुलिस के आला अफसरों से एक बार फिर अपनी गुहार लगाई, जिसके बाद मुकदमा दर्ज हो सका। देवी चंद ने बताया कि 20 साल पहले उनका बेटा जितेंद्र कुमार अचानक लापता हो गया था। उस वक्त वह सिहानी गेट थाने के क्वार्टर में ही रहते थे। 20 साल का जितेंद्र 22 अगस्त 1999 को दोपहर का खाना खाकर घर से निकला, लेकिन लौटकर नहीं आया। पुलिस कहती रही कि बेटा पढ़ा-लिखा है, कहीं नौकरी कर रहा होगा। वह खुद ही लौट आएगा। लेकिन 20 साल बीतने के बाद भी नहीं लौटा। इस बीच वह पुलिस से रिटायर हो गए। पुलिस का कहना है कि मामला बहुत पुराना है, फिर भी उसे तलाशने का प्रयास किया जाएगा। देवी चंद 69 साल के हो गए हैं, फिर भी हर सप्ताह दिल्ली आकर बेटे की खोजबीन करते हैं। उन्होंने ज्योतिष का भी सहारा लिया। उन्हें बताया गया कि उनका बेटा मुंबई में हो सकता है। इसके बाद उन्होंने मुंबई जाकर बेटे की तलाश की। देवी चंद ने मुंबई और दिल्ली दरियागंज के मिसिंग ब्यूरो में भी बेटे की जानकारी दी थी लेकिन कुछ फायदा नहीं हुआ। 

No comments:

Post a Comment