Latest News

18 Dec 2018

शराबबंदी के लिए अनोखा प्रयोग, शराब बेची तो लग जाएंगे पोस्टर : महाराष्ट्र

नागपुर। महाराष्ट्र के गढ़चिरौली जिले के अरोमोरी तालुके के मानपुरा गांव की पंचायत ने ऐलान किया है कि गांव में शराब लाने वालों को पोस्टर लगा दिया जाएगा। बता दें कि आदिवासी जनजातियों की बहुलता वाला गढ़चिरौली में शराब पूरी तरह बैन है। ऐसे में गांववालों ने फैसला लिया है कि गांव में शराब की तस्करी करने या शराब लाकर बेचने वाले का सरेआम पोस्टर लगाया जाएगा। जानकारी के मुताबिक, गढ़चिरौली से लगे जिलों गोंदिया और भंडारा से सस्ते दामों पर शराब की तस्करी बड़े पैमाने पर होती है। शराब से गांव के युवा बर्बाद हो रहे हैं और पुलिस ने आंखें मूंद रखी हैं, जिससे शराब का अवैध व्यापार तेजी से फल-फूल रहा है। ऐसे में परेशान होकर अरमोरी और मुलचेरा जिलों के लोगों ने खुद ही इसके खिलाफ लड़ने की तैयारी कर ली है। 
मानपुरा गांव के लोगों के मुताबिक, शराब की तस्करी करते हुए पकड़ा जाने पर 20 हजार रुपये का जुर्माना देना पड़ेगा। शराब बेचने वालों के बारे में जो व्यक्ति भी जानकारी देगा, उसे इनाम के साथ-साथ सम्मानित भी किया जाएगा। इसके अलावा शराब की तस्करी करने वाले व्यक्ति की तस्वीर के साथ गांव के चौक पर पोस्टर लगाए जाएंगे। साथ ही शराब पीने वालों को पांच हजार रुपये का जुर्माना देना पड़ेगा। 

No comments:

Post a Comment