Latest News

4 Dec 2018

राम ने 'दलित' हनुमान को गुलाम बनाया : बीजेपी सांसद सावित्री बाई फुले

लखनऊ। अपने विवादित बयानों को लेकर चर्चा में रहने वाली यूपी के बहराइच की बीजेपी सांसद सावित्री बाई फुले ने एक बार फिर से विवादित बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि भगवान हनुमान मनुवादी लोगों के गुलाम थे। इतना ही नहीं, सांसद ने यहां तक कह डाला कि अगर भगवान राम में शक्ति होती तो अयोध्या में मंदिर बन गया होता। सांसद ने भगवान राम को मनुवादी बताया और कहा कि हनुमान मनुवादी लोगों के गुलाम थे। उन्होंने कहा कि अगर वह दलित नहीं थे तो उन्हें इंसान क्यों नहीं बनाया गया? उन्हें बंदर क्यों बनाया गया? उनका मुंह क्यों काला किया गया...? उन्होंने इन सवालों के जवाब में कहा कि ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि वह दलित थे। उन्होंने कहा कि दलितों और पिछड़ों को बानर और रक्षक कहा जाता था। हनुमान एक इंसान थे लेकिन उन्हें बंदर बनाया गा। यह सब भगवान राम ने किया। उन्होंने दावा किया कि हनुमान दलित थे इसलिए उन्हें अपमानित किया गया था। हम दलितों को इंसान नहीं समझा जाता था। सुप्रीम कोर्ट में राम मंदिर मुद्दा विचाराधीन होने के मामले में सांसद ने कहा कि बीजेपी के पास कोई दूसरा मुद्दा नहीं है, इसलिए इसे उछाल रही है। देश को मंदिर की जरूरत नहीं है। क्या मंदिर बनाने से दलितों और पिछड़ों की बेरोजगारी का मुद्दा हल हो जाएगा? मंदिर बनने से सिर्फ ब्राह्मणों को लाभ होगा जो देश में सिर्फ तीन फीसदी हैं। बीजेपी सांसद ने कहा, 'हमको अधिकार चाहिए वर्ना कुर्सी खाली करो।' सावित्री बाई फुले के बयान पर बीजेपी के प्रवक्ता चंद्र मोहन ने कहा कि ऐसा लगता है कि सांसद को भारतीय परंपरा का ज्ञान नहीं है। 

No comments:

Post a Comment