Latest News

13 Dec 2018

बॉयो टॉइलट लगाने वाला यूपी का पहला निगम बना गाजियाबाद

गाजियाबाद। मान और शताब्दी व राजधानी जैसे ट्रेनों में इस्तेमाल होने वाले बायो-टॉइलट नगर निगम अब शहर में भी लगाने जा रहा है। इस तरह का टॉइलट खरीदने वाला गाजियाबाद यूपी का पहला नगर निगम बन गया है। ईको-फ्रेंडली तकनीकी बेस बायो-टॉइलट के वेस्टेज को डिस्पोजल करने में पानी भी बर्बादी भी नहीं होती है। इसके टैंक में बैक्टिरिया डाला जाता है, जो वेस्ट को डिस्पोजल कर उसे पानी में बदल देता है।नगर निगम 10 ऐसे टॉइलट खरीदे हैं। फिलहाल, दो टॉइलट निगम के पास आ गए हैं। आठ टॉइलट एक-दो महीने में आ जाएंगे। निगम ने एक एक्सपर्ट कंपनी से इसे डिजाइन कराया है। हर शौचालय की कीमत करीब सवा छह लाख रुपये पड़ी है। एक मोबाइल शौचालय में दस सीट हैं। इसे उन जगहों पर लगाया जाएगा जहां लोग खुले में शौच जाते हैं। हालांकि नगर निगम एक वर्ष पहले ही खुले में शौच मुक्त करार दिया था।
बावजूद इसके अब भी गाजियाबाद में ऐसे 13 स्थान हैं जो खुले में शौच संभावित एरिया हैं। ऐसे एरिया में निगम मोबाइल शौचालय लगाने की प्लैनिंग लंबे समय से कर रहा था। मगर समस्या थी रख-रखाव और पानी बर्बादी की। नगर आयुक्त सीपी सिंह ने बताया कि यह सब ईको-फ्रेंडली तकनीकी बेस शौचालय है। नगर निगम ने एक कंपनी की सलाह पर बॉयो-टॉइलट खरीदे हैं। इन शौचालयों के पानी के टैंक के लिए जरूरत नहीं होती है।

No comments:

Post a Comment