Latest News

9 Nov 2018

रात भर पटाखा फोड़ने वालों के पीछे भागती रही पुलिस : क्राइम

दिल्ली। अंकल हमारे एरिया में लोग पटाखे जला रहे हैं। दम घुट रहा है प्लीज इसे बंद करवा दीजिए। द्वारका जिले में ऐसे ही कई कॉल पीसीआर पर पुलिस को मिले। जिसकी वजह से पुलिस भी यहां एक्टिव रही। मिली जानकारी के अनुसार इस तरह की कॉल करने वालों पर पुलिस ने पूरी सावधानी के साथ कार्रवाई की।इस जिले में पटाखा जलाने से संबंधित कुल 71 कॉल पुलिस को मिली, जिसमें कुछ अस्थमा के पेशंट भी थे। सबसे अधिक कॉल उत्तम नगर और बिंदापुर थाना क्षेत्र में आए। यहां से कुल 16-16 पीसीआर कॉल हुए। इनमें से 6-6 जगहों पर पुलिस ने कार्रवाई की। कुल 71 कॉल में से 38 पर पुलिस ने कार्रवाई की और इनमें 20 लोगों को अरेस्ट किया गया। गौरतलब है कि दिवाली के दिन इसी क्षेत्र का नजफगढ़ एरिया दिल्ली के लिए उदाहरण भी रहा है। जहां सबसे कम प्रदूषण दर्ज किया गया है।इसकी वजह यह थी कि यहां पुलिस ने विक्रेताओं के खिलाफ भी कई दिनों से कार्रवाई शुरू की और पटाखों की उपलब्धता रोकने की कोशिश की, जिसकी वजह से लोगों को पटाखे नहीं मिल पाए। डीसीपी एंटो अल्फोंस के अनुसार सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों का पालन करने का प्रयास पुलिस ने किया और आरडब्ल्यूए ने भी इसमें पूरा साथ दिया। पूरी दिल्ली में सबसे अधिक पटाखे दिवाली वाले दिन इसी जिले में जब्त किए गए। 4 से 7 नवंबर के बीच पुलिस ने यहां 460 किलो पटाखे जब्त किए हैं, जिसमें से 300 किलो पटाखे अकेले दिवाली वाले दिन जब्त किए गए हैं। यह उत्तम नगर, बिंदापुर और नजफगढ़ क्षेत्र से जब्त हुए हैं। द्वारका के एसीपी राजेंद्र सिंह के अनुसार पूरी रात पुलिस सेक्टरों, गलियों का चक्कर लगाती रही है। पीसीआर कॉल के अलावा वॉटस ऐप ग्रुप पर मिल रही शिकायतों पर भी पुलिस ने कार्रवाई की है। तीन नाबालिगों को पुलिस ने पकड़ा है।

No comments:

Post a Comment