Latest News

28 Nov 2018

पुलिस कॉन्स्टेबल के पिता की गला दबाकर हत्या : गाजियाबाद

मोदीनगर। शास्त्रीनगर कॉलोनी में मंगलवार को एक कॉन्स्टेबल के पिता का शव उनके कमरे में मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। वृद्ध की हत्या गमछे से गला दबाकर की गई है। हालांकि अभी तक इसका कारण स्पष्ट नहीं हो पाया है। मौके पर पहुंची पुलिस, एसपी देहात अरविंद कुमार मोर्या, फरेंसिक टीम, डॉग स्क्वायड ने घटना स्थल की जांच की।एसएचओ गजेंद्रपाल सिंह ने बताया कि हत्या की सूचना मोदीपोन चौकी प्रभारी को मृतक के बेटे रमेश कुमार ने दी। रमेश यूपी पुलिस में कॉन्स्टेबल हैं। उन्होंने बताया कि उनके पिता छिद्दा सिंह (60) की गला दबाकर हत्याकर कर दी गई है। घर का मेन गेट खुला था और शव कमरे में पड़ा हुआ था। कमरे के बाहर फर्स पर खून की छींटे पड़े थे। बताया जा रहा है कि छिद्दा की हत्या कमरे के बाहर की गई फिर शव को बेड पर रखकर ऊपर से कंबल डाल दिया गया था। उनकी एक चप्पल कमरे के बाहर पड़ी थी जबकि दूसरी पैर में। उनके गले में एक गमछा पड़ा था।सीआईएसएफ में सेवा दे चुके छिद्दा सिंह भोजपुर थाना क्षेत्र के गांव फजलगढ़ के निवासी थे। उनकी पत्नी गांव में ही रहती हैं। रमेश ने बताया कि उनके पिता शास्त्रीनगर में मकान में अकेले रहते थे। मंगलवार को गांव का एक शख्स शादी का कार्ड देने आया था। कमरे में शव पड़ा देख वह मृतक के परिवारवालों को सूचना दी।
बताया गया कि मृतक के दो-दो बेटियां और बेटे हैं। बड़ा बेटा योगेश दिल्ली के मयूर विहार में रहकर नौकरी करता है। रमेश छोटे हैं। दोनों बेटियों की शादी हो चुकी है। गांव में उनके पास 100 बीधा से अधिक जमीन थी। कुछ साल पहले उन्होंने 80 लाख रुपये में अपनी जमीन बेची थी। 12 दिसंबर को योगेश की शादी होनी थी।
सीओ केपी मिश्रा ने बताया कि हत्या की वजह स्पष्ट नहीं हुई है। मृतक के परिवारवालों ने अभी तक कोई तहरीर भी नहीं दी है। उन्होंने लूट की घटना से इनकार किया है। उनका कहना है कि मौके से मृतक के पास से मोबाइल बरामद हुआ है। मृतक की पैंट खुली थी पुलिस टीम कई बिंदुओं को ध्यान में रखकर जांच कर रही है। तीन साल पहले मृतक पर छेड़छाड़ का आरोप लगा था।

No comments:

Post a Comment