Latest News

1 Nov 2018

सामाजिक कुप्रथा के चलते चार माह के बच्चे के पेट में गर्म लोहे से दागे : अनूपपुर

सुमिता शर्मा,(अनूपपुर)। ग्रामीण क्षेत्रो में आज भी 5 वर्ष तक के बच्चो को पेट की समस्या से दूर रखने हेतु लोहे को गर्म कर आग से बच्चे के पेट में दागी मारने की सामजिक कुप्रथा से जहां बच्चे की मौत तक हो जाती है, जिसके लिए लगातार प्रशासन द्वारा इस कुप्रथा को रोकने के लिए लगातार ग्रामीणो को जागरूक करने का प्रयास किया जा रहा है। बावजूद इसके जैतहरी में एक मामले एैसा भी सामने आया जहां ग्राम चोलना के 4 माह के बच्चे को लोह गर्म कर पेट में दागने का मामला सामने आया। जहां सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र जैतहरी में संचालित पोषण पुर्नावास केन्द्र में 29 सितम्बर को ग्राम चोलना के 4 माह के बच्चो को कुपोषित होने पर भर्ती कराया गया, जहां पर उपचार के दौरान बच्चे के पेट में लोहे को गर्म कर आग से दागने जैसे निषान पाया गया। जानकारी के अनुसार 4 माह का बच्चा अर्जुन विष्वकर्मा पिता वेदप्रकाश विश्वकर्मा निवासी ग्राम चोलना को उसके परिजनो द्वारा जैतहरी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां बच्चे को कुपोषित पाए जाने पर डाॅक्टरो ने उसे तत्काल एनआरसी वार्ड में भर्ती कराया गया। जब इस संबंध में जैतहरी बीएमओं डाॅ. बीपी शुक्ला ने बताया कि बच्चे को कुपोषित होने पर उपचार के लिए भर्ती कराया गया। जहां पर अभी बच्चे का उपचार किया जा रहा है।

No comments:

Post a Comment