Latest News

15 Oct 2018

धर्म परिवर्तन पर हुई थी बहस, गनर के 'गुरु' की तलाश में पुलिस : गुड़गांव गोलीकांड


गुरुग्राम। अडिशनल सेशन जज कृष्णकांत शर्मा की पत्नी और बेटे को गोली मारनेवाले जज के गनर महिपाल का मकसद अबतक पता नहीं चल पाया है। वह बार-बार बयान बदलकर पुलिस को गुमराह कर रहा है। घटना के बाद से जांच में लगी पुलिस अब उसके 'गुरु' और 'गुरु मां' की भी तलाश में है, जिनसे महिपाल काफी प्रभावित था। जज की पत्नी की हत्या और बेटे को गोली मारने वाले इस कांड के पीछे कथित तौर पर छुट्टी और धर्म परिवर्तन की बात भी सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि महिपाल की शादीशुदा जिंदगी में भी सब ठीक नहीं चल रहा था। बता दें कि शनिवार को हुए इस गोलीकांड में जज की पत्नी की मौत हो गई जबकि उनका बेटा ब्रेनडेड है। इस मामले में रविवार पूरे दिन चली पूछताछ के बाद पुलिस 32 साल के महिपाल की मानसिक हालत पर भी गौर कर रही है। पुलिस उसके कथित 'गुरु' और 'गुरु मां' की भी तलाश में है, जिनका उसपर काफी प्रभाव था। जांच कर रहे सीआईडी अधिकारियों को शक है कि उसका गुरु इंद्रराज सिंह हो सकता है, जिसे पुलिस ने एक बार पहले धर्म परिवर्तन करवाने की शिकायतों के बाद गिरफ्तार किया था। 
पुलिस के मुताबिक 21 अगस्त को एक छापे में इंद्रजीत, एक सीआरपीएफ जवान के साथ कुल 8 लोगों को पकड़ा गया था। फिर महिपाल की दखल के बाद उन्हें छोड़ दिया गया था। इंद्रजीत सिंह पर इससे पहले भी 2015 में धर्म परिवर्तन के लिए लोगों को बहकाने के आरोप लगे थे और उसे गिरफ्तार भी किया गया था। तब भी महिपाल ने इंद्रजीत का साथ दिया, हालांकि, उनकी मां को यह पसंद नहीं था। इसपर महिपाल ने अपना घर छोड़कर गुरुग्राम में रहना शुरू कर दिया था। जज की पत्नी की हत्या के आरोपी सिपाही महिपाल ने 3 साल पहले धर्म परिवर्तन किया था। गांव वालों ने इसका विरोध किया था। पुलिस की जांच में यह बात भी सामने आई है कि आरोपी गनर जज के परिवार को भी धर्म परिवर्तन को लेकर बार-बार बात करता था। इस बात को लेकर झगड़ा भी हुआ था। छुट्टी न देने की बात पर महिपाल के डिप्रेशन में आने की बात भी सामने आ रही है। पुलिस की पूछताछ में फिलहाल यही दो बड़े कारण सामने आए हैं। हालांकि वारदात क्यों हुई, इसकी अभी कोई ठोस वजह सामने नहीं आई है। एसआईटी के साथ ही साइबर सेल, क्राइम टीम का भी जांच में सहयोग लिया जाएगा। महिपाल की अब तक की पोस्टिंग पर उसके व्यवहार की भी जानकारी हासिल की जाएगी। छानबीन में पता चला है कि महिपाल की शादीशुदा जिंदगी में कुछ दिक्कतें चल रही थीं। उसकी पत्नी मीनू हरियाणवी गानों की सिंगर और लेखक है। पुलिस के मुताबिक, दोनों की आए दिन किसी बात पर लड़ाई होती रहती थी। इस वजह से वह पिछले 3-4 दिनों से सोया तक नहीं था। महिपाल के पड़ोसियों के मुताबिक, महिपाल की बीवी को कई बार उसपर चिल्लाते सुना, लेकिन महिपाल की तरफ से कोई आवाज नहीं आती थी। पड़ोसियों को घटना की जानकारी हुई तो उन्हें यकीन नहीं हुआ, क्योंकि उनकी नजरों में उससे पहले तक महिपाल 'अच्छा शख्स' था। महिपाल और मीनू की आठ साल पहले शादी हुई थी, उनके 2 बच्चे हैं। 
जानकारी के मुताबिक, महिपाल की पत्नी को जब यह पता चला कि वह जज के परिवार पर धर्म परिवर्तन का दबाव डाल रहा है तो वह अपने मायके रोजका चली गई। वहीं महिपाल महेंद्रगढ़ के नांगल चौधरी कस्बे के पास गांव भुगारका का रहने वाला है। उसके मामा ने 11 साल पहले पुलिस में नौकरी लगवाई थी। 
हर ऐंगल से जांच 
पुलिस ने महिपाल का पिछला रिकॉर्ड, धर्म परिवर्तन व अन्य बातें जानने के लिए उसकी पत्नी मीनू व मामा को भी जांच में शामिल किया है। पूछताछ के लिए महिपाल की मां और मामा के लड़के को भी हिरासत में लिया गया है। 
फेसबुक की भी जांच 
हत्या से एक दिन पहले महिपाल द्वारा फेसबुक पर पोस्ट की गई तस्वीर पर भी गौर किया जा रहा है। जांच के दौरान महिपाल पुसिस को ताउ देवी लाल स्टेडियम के पास मौजूद एक कमरे में भी लेकर गया था, जहां धर्म से संबंधित कुछ पोस्टर आदि मौजूद थे। 

No comments:

Post a Comment