Latest News

4 Oct 2018

भतीजी से दुष्कर्म के प्रयास करने पर चाचा ने की अपने ही दोस्त की हत्या : कटनी


संजीव दुबे,( कटनी)। कोतवाली के बैलटघाट क्षेत्र में सिमरौल नदी के किनारे कल सोमवार की दोपहर बरामद दो दिन से लापता युवक की लाश के मामले में पुलिस ने शवपरीक्षण रिपोर्ट में गला घोंटकर हत्या किए जाने का खुलासा होते ही अज्ञात युवकों के विरूद्ध हत्या का मामला दर्ज किया और कुछ ही देर में आरोपियों का सुराग लगाते हुए उन्हे गिरफ्तार भी कर लिया। गौरतलब है कि बैलटघाट क्षेत्र निवासी अजय पिता साधूराम कोरी स्टेशन में वेंडरिंग का काम करता था। वह 29 अक्टूबर की शाम से घर में बिना बताए लापता था। उसकी कल सोमवार की दोपहर क्षेत्र से होकर गुजरी सिमरौल नदी के किनारे लाश बरामद की गई। जिसका पीएम कल दोपहर चिकित्सकों ने जिला चिकित्सालय में किया और प्रारंभिक रिपोर्ट में बताया कि अजय की हत्या गला घोंटकर की गई। बताया जाता है कि शवपरीक्षण रिपोर्ट में हत्या का खुलासा होते ही कोतवाली प्रभारी शैलेष मिश्रा ने इससे पुलिस अधीक्षक मिथिलेश शुक्ला व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विवेक कुमार लाल सहित नगर पुलिस अधीक्षक एम.पी.प्रजापति को अवगत कराया और वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों से मामले में आवश्यक दिशा निर्देश लेकर अज्ञात आरोपियों के विरूद्ध हत्या का मामला दर्ज कर अपनी टीम के साथ सुराग लगाने में जुट गए। जिसमें कोतवाली पुलिस को कुछ ही देर में सफलता मिल गई तथा अजय की हत्या के आरोप में पुलिस ने उसके ही दोस्तों को गिरफ्तार कर लिया।
भतीजी से दुष्कर्म का प्रयास बना विवाद का कारण
कोतवाली प्रभारी शैलेष मिश्रा ने बताया कि हत्या का मुख्य आरोपी पप्पू उर्फ देवेन्द्र सोलंकी के घर में घुसकर मृतक अजय कोरी नाबालिक भतीजी के साथ दुष्कृत्य करने का प्रयास कर रहा था तभी पप्पू घर पहुंच गया और भतीजी ने अपने चाचा पप्पू को आपबीती सुनाई। जिसको लेकर अजय का वेंडर पप्पू उर्फ देवेंद्र सोलंकी तथा विनोद बर्मन से विवाद हो गया। जिसके बाद दोनों आरोपी अजय को सिमरौल नदी के किनारे लेकर गए और वहां ईंट पत्थरों से मारकर अजय को घायल करने के बाद उसकी गला दबाकर हत्या कर दी। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

No comments:

Post a Comment