Latest News

11 Oct 2018

मामा-भांजे ने रेप के बाद की थी बच्ची की हत्या : गाजियाबाद


मुरादनगर। मुरादनगर में 6 साल की बच्ची की गैंगरेप के बाद हत्या व शव मस्जिद की छत पर मिलने के मामले का पुलिस ने बुधवार को खुलासा किया। एसएसपी वैभव कृष्ण ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि इस केस में पुलिस ने बच्ची के पड़ोस में रहने वाले मुजीब और शीबू को गिरफ्तार किया है। दोनों रिश्ते में मामा-भांजे हैं और अपना गुनाह कबूल किया है। पूछताछ में आरोपितों ने बताया है कि दोनों के बीच समलैंगिक संबंध भी हैं। बच्ची पर उनकी काफी पहले से नजर थी। 6 अक्टूबर को मौका मिलने पर उन्होंने उसे अगवा कर वारदात की।मुरादनगर की कोट कॉलोनी में बच्ची परिवार के साथ रहती थी। बच्ची के पड़ोस में ही मुजीब (20) और शीबू (18) रहते हैं। दोनों रिश्ते में मामा-भांजे हैं। मुजीब बी-फार्मा कर चुका है और हिमाचल प्रदेश की एक कंपनी में जॉब करता है। वह 22 सितंबर को छुट्टी लेकर घर लौटा था। वहीं शीबू 12वीं में पढ़ता है। 6 अक्टूबर को बच्ची अपने छोटे भाई के साथ खाने का सामन लेने पास ही दुकान पर गई थी। चिप्स और बिस्कुट लेने के बाद उसने भाई को घर भेज दिया और खुद एक मकान की सीढ़ियों पर बैठकर चिप्स खाने लगी। इस दौरान दोपहर करीब 12:30 बजे शीबू उसके पास पहुंचा और अपने परिवार की छोटी बच्ची के साथ खेलने की बात कहकर अपने साथ घर ले आया। पीछे से मुजीब भी घर में आया और दोनों ने पहले उससे रेप किया और बाद में कुकर्म भी किया। बच्ची के चिल्लाने की आवाज बाहर न जाए, इसके लिए उन्होंने उसके मुंह में कपड़ा ठूंस दिया। दोपहर करीब 2 बजे दोनों ने नाड़े से बच्ची का गला दबाकर हत्या कर दी। 
आरोपितों ने पूछताछ में बताया कि बच्ची की हत्या के बाद उन्होंने शव को एक बोरे में रख कर घर में ही छिपा दिया। रात 2 बजे 2 घरों की छत लांघकर उन्होंने शव को मस्जिद की छत पर फेंक दिया। अगले दिन जब बच्ची का शव मिला, तो मुजीब उसके परिवार के साथ ही रहा। शीबू सुबह गाजियाबाद आ गया था।बच्ची के परिवार वालों ने चुनावी रंजिश में हत्या का आरोप लगाते हुए 4 लोगों के खिलाफ शिकायत दी थी। पुलिस ने चारों को गिरफ्तार किया था। पुलिस की चार टीमें मामले की जांच में लगाई गईं। पूछताछ में जब गिरफ्तार किए गए चारों लोगों से मामला कनेक्ट नहीं हुआ, तो जांच और तेज की गई। इसके बाद टीम ने 80 घरों की चेकिंग की। इस दौरान मस्जिद के बगल वाले एक घर की छप पर खून के कुछ छींटे मिले। इसके अलावा पुलिस को मुजीब के घर से एक बोरा मिला। जब सख्ती से उससे पूछताछ की गई तो उसने गुनाह कबूल कर लिया। 

No comments:

Post a Comment