Latest News

24 Oct 2018

फ्री गिफ्ट का ऑफर देने वाले लिंक्स को न क्लिक करने से बचें: दिल्ली पुलिस

नई दिल्ली। ठगी के गैंगों ने इंटरनेट यूजर्स को ठगने के नए-नए तरीके निकाल लिए हैं। फेस्टिव सीजन में फ्री गिफ्ट के ऑफर, ऐसे ही तरीकों में एक है, जिसके जरिए आपके साथ ठगी की जा रही है। ऐसे ऑफर देकर आपकी पर्सनल इन्फर्मेशन हासिल की जा रही है और बदले में आपके खाते में लग रही है सेंध।ऐसी कई वारदात सामने आने के बाद दिल्ली पुलिस ने वॉट्सऐप और फेसबुक यूजर्स को सतर्क रहने की सलाह देते हुए कहा है कि फ्री गिफ्ट ऑफर करने वाले लिंक्स को क्लिक न करें।पुलिस ने पाया कि इस तरह की डील्स के झांसे में सबसे ज्यादा बच्चे आ रहे हैं, वे बहुत आसानी से बैंक डीटेल्स जैसी अहम जानकारियां दे देते हैं। मंगलवार को पुलिस ने सेंसिटाइजेशन प्रोग्राम चलाया, जिसमें पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक ने डीयू स्टूडेंट्स को बुकलेट्स बांटीं और बताया कि कैसे ठग फ्री गिफ्ट्स ऑफर के जरिए लोगों को ठग रहे हैं। डीसीपी(साइबर सेल), अन्येष रॉय ने कहा कि फ्री गिफ्ट्स ऑफर करने वाली ज्यादातर अनवेरिफाइड ऐप्स में मालवेयर हैं, जो आपका पर्सनल डेटा चुराने का काम करता है। डीसीपी रॉय ने कहा 'ठग आपका पर्सनल यूजर डेटा चोरी कर रहे हैं। सबसे ज्यादा ठगी युवाओं से की जा रही है।' 
अडवाइजरी में पुलिस ने कई ऐप्स और वेबसाइटों की लिस्ट दी है, जो यजर की कॉन्टैक्ट डीटेल्स के साथ-साथ वॉट्सऐप चैट हिस्ट्री भी ऐक्सेस कर सकती हैं। डीसीपी (नॉर्थ) नूपुर प्रसाद ने कहा, 'कई बार तो धोखेबाज बगैर आपकी जानकारी के आपके फोन के कैमरा और माइक्रोफोन तक को ऐक्सेस कर लेते हैं।'पुलिस का कहना है कि मालवेयर अकसर मोबाइल विडियो गेम्स के साथ और फ्री फेस्टिवल ऑफरों के साथ पुश किए जाते हैं। पुलिस अधिकारी ने कहा, 'हम लोगों को जागरूक कर रहे हैं कि वे अनजान लिंक्स पर क्लिक न करें तोकि उन्हें आगे चलकर बड़ा नुकसान न पहुंचे।' 

No comments:

Post a Comment