Latest News

24 Oct 2018

दो पतियों ने रुपयों के लिए मुंबई में बेंच दी पत्नियां : राजस्थान

सिरोही। मुंबई के विरार में दो पतियों द्वारा बहुओं का सौदा करने के मामले में पुलिस राजस्थान के सिरोही पहुंचेगी। पुलिस ने बताया कि इस मामले में आरोपी दो पतियों और पत्नियों के सौदे में शामिल दस लोगों की तलाश की जा रही है। पुलिस को आशंका है कि पीड़िताओं के पति संजय रावल और वरुण रावल पिंडवाड़ा में छिपे हो सकते हैं। पुलिस ने इस मामले में बताया कि पीड़िताओं के पति, सास, ससुर समेत 12 लोग इस खरीदफरोख्त में शामिल हैं। विरार (पश्चिम) के एमबी स्टेट की निवासी 24 वर्षीय पीड़िता ने बताया कि 2015 में उनकी शादी विरार के रहने वाले संजय मोहनलाल रावल से हुई थी। उनकी छोटी बहन की शादी संजय के छोटे भाई वरुन रावल के साथ हुई थी। दोनों बहनें एक ही घर में रहती थीं। शादी के बाद ससुरालावाले दोनों बहनों को दहेज के लिए प्रताड़ित करने लगे। ससुरालवालों ने उनसे मायके से पांच लाख रुपये लाने को कहा। रुपये न लाने पर उन्हें शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताड़ित किया जाने लगा। पुलिस के मुताबिक, 30 अगस्त को ससुरालवाले दोनों बहुओं को राजस्थान ले गए। वहां भी दोनों को प्रताड़ित किया गया। 10 सितंबर को ससुरालवालों ने दोनों को ट्रेन में बैठाकर विरार अपने घर जाने को कह दिया। उनके साथ एक अज्ञात व्यक्ति भी आया। दूसरे दिन जब ट्रेन वसई स्टेशन पहुंची तो वह आदमी उन्हें मीरा रोड चलने को कहने लगा। इस बात पर दोनों पीड़िताओं का उस व्यक्ति से झगड़ा हो गया। कुछ लोग बीच बचाव में आ गए तभी उस व्यक्ति ने कहा कि इन महिलाओं के ससुरालवालों ने दोनों को उसे डेढ़ लाख रुपये में बेचा है। इतना बोलकर वह वहां से चला गया। 
अब तक नहीं हुई है किसी की गिरफ्तारी 
इस घटना के बाद दोनों विरार पुलिस स्टेशन शिकायत करने पहुंचीं लेकिन उनकी शिकायत नहीं दर्ज की गई। आरोप है कि दोनों ने महीनेभर पुलिस स्टेशन के चक्कर काटे लेकिन पुलिस अनसुना करती रही। इसके बाद दोनों एक महिला वकील के पास गईं। वकील ने पालघर एसपी से बातचीत की और मामला दर्ज हुआ। नौ अक्टूबर को आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया। बहनों का आरोप है कि सास ने एक बहू को दवा पिलाकर उसका दो महीने का गर्भ भी गिरा दिया। अब तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। 

No comments:

Post a Comment