Latest News

15 Oct 2018

पंचकूला में जलेगा 210 फीट का रावण, 30 लाख के खर्च से हुआ तैयार : हरियाणा


चंडीगढ़। हरियाणा के पंचकूला में इस बार 210 फीट ऊंचे रावण के दहन की तैयारी है। पुतला बनकर पूरी तरह तैयार है और इसे देखने के लिए लोगों की भीड़ लग चुकी है। एक तरह से सबको आकर्षित कर रहा रावण लोगों के लिए सेल्फी पॉइंट तक बन चुका है। रावण के इस पुतले की ऊंचाई का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पंचकूला के सेक्टर 5 के मैदान में जिस जगह यह पुतला खड़ा किया या है उसके कुछ दूरी पर एक शॉपिंग मॉल की बिल्डिंग है, जो इस पुतले के आगे बौनी नजर आ रही है। ऐसे में इसकी ऊंचाई इंडिया गेट से भी करीब डेढ़ गुनी है। बता दें कि इंडिया गेट की ऊंचाई करीब 138 फीट है।  
इस पुतल को श्री रामलीला क्लब बराड़ा (अंबाला) के अध्यक्ष तेजिंदर सिंह चौहान ने तैयार करवाया है, इसमें श्रीमाता मनसा देवी श्राइन बोर्ड का भी सहयोग है। रावण दहन को अभी दिन बचे हैं लेकिन इसे देखने के लिए भीड़ उमड़ पड़ी है। मिसाल के तौर पर सिरसा में रहते हुए अपने बचपन के दौरान कई रावण दहन देख चुके अभिषेक मेहता ने कहा कि जीवन में पहली बार इतना ऊंचे कद वाले रावण को सुना तो वह अपनी फेमली को लेकर यहां आ गए। जीरकपुर की 65 साल की कैलाश साहनी ने अपने जीवन में पहली बार इतने ऊंचे कद वाले रावण को देखने के लिए विशेष रूप से पंचकूला पहुंची हैं। नबी भी इस रावण को देखकर सेल्फी लेने से खुद को रोक नहीं सकीं। 
210 फीट ऊंचे रावण के मुकुट के ऊपर का छत्र ही 10 फीट का है। 50 फीट का तो मुकुट ही है जबकि रावण की मूंछे भी दोनों तरफ से कुल मिलाकर 48 फीट हैं। रावण के मुंह और गर्दन को मिलाकर आकार 25 फीट का बैठ रहा है। इस रावण के हाथ में 50 फीट की तलवार है, 85 फीट का धड़ है। इसकी टांग 30 फीट लंबी है जबकि 10 फीट के जूते हैं और जूतों की लंबाई 30 फीट है। खास बात यह है कि यह रावण 10 मुंह वाला नहीं बनाया गया है। इसकी वजह है वजन का ज्यादा होना। इसे तैयार करवाने वाले तजिंद्र सिंह चौहान के मुताबिक, रावण के एक मुंह का वजह ही तीन क्विटंल है तो 10 सिर लगाना संभव नहीं था। इसे 40 लोगों की टीम ने 4 महीने में तैयार किया है। इस पर करीब 30 लाख रुपए का खर्च आया है और खास बात यह है कि इसमें 5 लाख रुपये की इको फ्रेंडली आतिशबाजी होगी। 

No comments:

Post a Comment