Latest News

10 Oct 2018

दुर्घटनाग्रस्त हुई न्यू फरक्का एक्सप्रेस से 1,000 यात्रियों को दिल्ली लाने के लिए विशेष ट्रेन का इंतजाम : लखनऊ


लखनऊ। उत्तर प्रदेश में रायबरेली के निकट बुधवार की सुबह दुर्घटनाग्रस्त हुई न्यू फरक्का एक्सप्रेस में सवार करीब 1,000 यात्रियों को उनके गंतव्य नयी दिल्ली ले जाने के लिए लखनऊ से विशेष ट्रेन का इंतजाम किया गया है। रायबरेली में हरचन्दपुर के निकट बुधवार की सुबह करीब छह बजे न्यू फरक्का एक्सप्रेस की इंजन और आठ डिब्बे पटरी से उतर गए जिसमें कम से कम सात लोगों की मौत हो गई।रेलवे प्रशासन ने ट्रेन में सवार यात्रियों को लखनऊ पहुंचाने के लिए 80 बसों का इंतजाम किया है। लखनऊ से सभी यात्रियों को नयी दिल्ली भेजने के लिए विशेष ट्रेन की व्यवस्था की गई है। रेलवे ने सभी यात्रियों के भोजन-पानी की भी समुचित व्यवस्था की है। उत्तर रेलवे के डीआरएम (मंडल रेल प्रबंधक) सतीश कुमार ने 'भाषा' को बताया कि दुर्घटना में घायल हुए यात्रियों में से 10 लोगों को रायबरेली के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। गंभीर रूप से घायल चार यात्रियों को लखनऊ के किंग जार्ज मेडिकल विश्वविद्यालय ट्रामा सेंटर और दो यात्रियों को संजय गांधी पीजीआई के ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है। शेष घायलों को प्राथमिक चिकित्सा उपचार देकर उनके गंतव्य भेजने का इंतजाम किया गया है।
उन्होंने बताया कि दुर्घटनाग्रस्त हुई ट्रेन में सवार करीब 1,000 यात्रियों को विशेष बसों से रायबरेली से लखनऊ लाया जा रहा है। इसके लिये करीब 80 बसों का इंतजाम किया गया है। इन्हें लखनऊ से विशेष ट्रेन से दिल्ली भेजने की व्यवस्था की गई है। यह पूछने पर कि पटरियों को खाली कर सामान्य रेल यातायात बहाल करने में अभी और कितना समय लगेगा, डीआरएम ने कहा कि रेलवे सुरक्षा आयोग की टीम घटनास्थल पर पहुंच गयी है। रेलवे के तकनीकी अधिकारियों की टीम भी घटनास्थल पर है। अनुमान है कि पटरियां ठीक होने और इस मार्ग पर यातायात फिर से बहाल होने में कम से कम 24 घंटे का समय लगेगा। जार्ज मेडिकल विश्वविद्यालय के ट्रामा सेंटर के प्रभारी डॉक्टर संदीप तिवारी ने बताया कि अस्पताल में भर्ती यात्रियों में से एक की हालत बहुत गंभीर है। उसे वेंटीलेटर पर रखा गया है। संजय गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान (पीजीआई) के जनसंपर्क अधिकारी आशुतोष सोती ने कहा, हमारे यहां भर्ती यात्रियों में से एक की हालत नाजुक बनी हुई है। हमें यात्री की पहचान ज्ञात नहीं है।

No comments:

Post a Comment