Latest News

26 Sep 2018

बिजली बनी पढ़ाई में रोड़ा : फतेहपुर


अमित कुमार सिंह,(फतेहपुर)। शिक्षा को लेकर सरकार अपने धन के भलेही पिटारे खोल रखे हो मगर सरकार के नुमाइंदे कुर्सी पर बैठे जिम्मेदार अधिकारी संजीदा नज़र नहीं आ रहे हैं। गाँव से लेकर शहर तक कही न कही खामिया नज़र आ रही हैं। जिसके चलते आम नागरिको को इनकी अनदेखी के चलते मूल भूत समस्याओ से दो चार होना पड़ रहा हैं। ऐसा ही एक मामला प्रकाश में आया हैं जो आप को सोचने पर मजबूर कर देगा। जी नगरपालिका क्षेत्र के एक गाँव का हैं जहा पर नाली ,रोड न होने काऱण ग्रामीण कीचड़ बोदे का बरसात में सामना करने के लिए मजबूर हैं। यही नहीं सब से बड़ी बात तो यह हैं की इस गाँव में बिजली नहीं है लोग अँधेरे में जीवन गुजार रहे हैं। बिजली न होने के कारण बच्चे पढ़ नहीं पाते उनकी शिक्षा बाधित हो रही हैं। समस्याओ को लेकर जिलाधिकारी से गुहार लगाई हैं.वहा अभी  सिर्फ और सिर्फ आश्वासन ही मिला। मामला फतेहपुर जिले का हैं। उत्तर प्रदेश फतेहपुर जिले के सदर क्षेत्र के नारायणपुर गाँव जो की नगर पालिका परिषद का एक वार्ड भी हैं। एक लम्बे समय से यहाँ के बाशिंदे मूल भूत समस्याओ से जूझ रहे हैं। गाँव में कच्चा  रास्ता होने के कारण पानी भर जाता हैं। जिसके कारण वहा के बाशिंदो को कीचड़ बोदे से गुजरना पड़ता हैं। यही नहीं छोटे बच्चो को स्कूल जाने में समस्याओ का सामना करना पड़ता हैं। जिस कारण उनकी शिक्षा पर असर पड़ता हैं। वही इस गाँव की सब से बड़ी समस्या हैं। आज़ादी से लेकर आज तक ग्रामीणों को बिजली की रौशनी मुहय्या नहीं हो सकी. बिजली का न होना अलग बात हैं। मगर इस के न होने से वहा के बच्चे पढ़ाई नहीं कर पाते जिस कारण आज बच्चो का भविष्य अन्धकार में डूबता हुया देख परिजनों ने अपने गाँव की समस्याओ को लेकर और बच्चो के साथ जिलाधिकारी से मिले। और अपनी समस्याओ से अवगत कराया। वही जिलाधिकारी के आश्वासन के बाद वह अपने घर को लौटे।

No comments:

Post a Comment