Latest News

23 Aug 2018

गवाह यूनुस की संदिग्ध मौत, बगैर पोस्‍टमॉर्टम शव दफनाया : उन्‍नाव रेप-मर्डर केस


कानपुर। उन्नाव के बांगरमऊ से बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर से जुड़े रेप और हत्या के मामले में गवाह की संदिग्ध मौत से नया मोड़ आ गया है। रेप पीड़‍ित लड़की के प‍िता की मौत के चश्‍मदीद गवाह यूनुस की अचानक मौत हो गई। यूनुस के पर‍िजनों ने उसके शव को बगैर पोस्‍टमॉर्टम कराए जल्‍दबाजी में दफना द‍िया। बता दें क‍ि यूनुस की मौत 18 अगस्‍त हो गई थी जो उन्‍नाव कांड में मुख्‍य गवाह था। उसकी मौत के बाद पीड़‍ित के चाचा ने एसपी उन्‍नाव हरीश कुमार से पोस्‍टमॉर्टम कराए जाने की गुहार लगाई है।बता दें कि उन्‍नाव रेप केस में पीड़‍ित लड़की के प‍िता की 9 अप्रैल को माखी पुल‍िस स्‍टेशन में प‍िटाई के दौरान मौत हो गई थी। इस मामले में यूनुस चश्‍मदीद गवाह था। बुधवार को पीड़ित के चाचा ने कहा क‍ि रेप मामले में आरोपी व‍िधायक कुलदीप स‍िंह सेंगर के इशारों पर ही सबकुछ हो रहा है और यूनुस को जहर देकर मारा गया है।उन्‍होंने बताया, 'यूनुस की मौत को लेकर मैंने एसपी से मिलकर एक पत्र सौंपा है। इस खत में उन्‍नाव एसपी हरीश कुमार से मांग की गई है कि यूनुस का पोस्‍टमॉर्टम कराया जाए, ज‍िससे पता चल सके क‍ि उसकी मौत अचानक कैसे हो गई?' 
माखी में रहने वाले यूनुस के एक पड़ोसी ने हमारे सहयोगी टाइम्‍स ऑफ इंड‍िया को बताया, 'यूनुस एक छोटी सी दुकान चलाता था। वह अचानक 18 अगस्‍त को बीमार हो गया। उसे जल्‍दबाजी में जिला अस्‍पताल ले जाया गया, जहां उसकी मौत हो गई। उसके पर‍िजनों ने पुल‍िस को सूचना द‍िए बगैर शव को जल्‍दबाजी में दफना द‍िया था।' पीड़‍ित लड़की के चाचा ने एसपी को पत्र में लिखा है कि यूनुस अपनी मौत से एक द‍िन पहले तक ब‍िल्‍कुल ठीक था। उसकी बॉडी को दफनाने में जल्‍दबाजी क्‍यों की गई? पत्र में उन्‍होंने यह भी इंग‍ित क‍िया क‍ि इस केस में आरोपी कुलदीप स‍िंह सेंगर को यूनुस से खतरा था। उन्‍होंने अपील करते हुए कहा क‍ि यूनुस की मौत की जांच करते हुए माखी थाने के पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की जाए। गौरतलब है क‍ि नाबाल‍िग लड़की से रेप और उसके प‍िता की हत्‍या की साजिश के मामले में आरोपी विधायक कुलदीप स‍िंह सेंगर जून से जेल में बंद हैं। इस केस में अप्रैल से उनके भाई और एक अन्‍य सहयोगी को भी जेल में रखा गया है। 

No comments:

Post a Comment