Latest News

18 Jul 2018

चलते एयरक्राफ्ट के सामने सांसदों ने खिंचवाई तस्वीर, खड़ा हुआ विवाद : गुजरात


सूरत। गुजरात के सूरत और नवसारी संसदीय क्षेत्र के सांसद एक नए विवाद में फंस गए हैं। यह विवाद उनकी उस तस्वीर को लेकर उठा है जो उन्होंने सूरत एयरपोर्ट पर रनवे में खड़े होकर चलते हुए एयरक्राफ्ट के सामने खिंचवाई है।इस तस्वीर में सांसद दर्शना, जरादोश और सीआर पाटिल और उनके साथ एयरपोर्ट का स्टाफ खड़ा है। इस तस्वीर में एयरपोर्ट के पूर्व निदेशक दिलीप सजनानी भी नजर आ रहे हैं। यह तस्वीर बेंगलुरु से शुरू हुई एयर एशिया फ्लाइट की लैंडिंग के दौरान ली गई थी। डायमंड सिटी के एक नागरिक ने आरटीआई के तहत एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया से इस मामले में जवाब मांगा था। इसमें उन्होंने पूछा कि क्या कोई व्यक्ति या कोई चयनित राजनीतिक प्रतिनिधि को चलते हुए एयरक्राफ्ट के सामने खड़े होकर या फिर एयरोब्रिज पर खड़े एयरक्राफ्ट के सामने तस्वीर लेने की अनुमति है? 
इस आरटीआई के जवाब में कहा गया कि किसी भी नागरिक या चयनित राजनीतिक सदस्य को एयरपोर्ट में बिना बोर्डिंग पास से प्रवेश करने की अनुमति नहीं है। यहां तक कि किसी को भी एयरपोर्ट के एप्रन या टर्मैक क्षेत्र में जाने या प्रदर्शन करने की अनुमति नहीं है। अगर किसी को फटॉग्रफी करनी है तो उसे डीजीसीए की अनुमति लेना जरूरी है। यह अनुमति भी सिर्फ प्रमाणित वास्तविक यात्रियों के लिए ही दी जा सकती है।आरटीआई कार्यकर्ता ने कहा, 'हर समय जब एक नई एयरलाइंस लॉन्च होती है तो ये सांसद एयरपोर्ट पहुंच जाते हैं और उसके सामने खड़े होकर तस्वीर खिंचवाते हैं। एक चयनित राजनीतिक प्रतिनिधि होने के नाते वह सिर्फ एयरपोर्ट के टर्मिनल बिल्डिंग तक जा सकते हैं लेकिन वह चलते हुए एयरक्राफ्ट के सामने तस्वीर नहीं खींच सकते हैं। इस मामले में डीजीसीए को कार्रवाई करनी चाहिए और वहां सूचना बोर्ड लगाना चाहिए।' इस मामले में नवसारी सीआर पाटिल ने कहा, 'हम अथॉरिटी की अनुमति लेकर ही एयरपोर्ट में दाखिल हुए थे। हम तस्वीर खींचने के लिए कोई कैमरा लेकर नहीं गए थे। हमें नहीं पता कि किसने यह तस्वीर खींची और सोशल मीडिया में वायरल कर दी।' 

No comments:

Post a Comment