Latest News

26 Jul 2018

चोरी की भैंस बरामद करने गई पुलिस टीम पर जानलेवा हमला : फतेहपुर


अमित कुमार सिंह,(फतेहपुर)। उत्तर प्रदेश फतेहपुर जिले के खागा कोतवाली क्षेत्र के पचीसा गाँव में चोरी की भैंस बरामद करने गई पुलिस टीम पर आरोपियों ने लाठी डंडों व अवैध असलहों के साथ जानलेवा हमला कर दिया । जिसमें हल्का इन्चार्ज समेत लभगभ डेढ़ दर्जन पुलिस कर्मी गम्भीर रूप से घायल हो गये । जिस पर ग्रामीणों की सूचना पर पहुँची कोतवाली पुलिस ने घायल पुलिस कर्मियों को डॉक्टरी परीक्षण के लिये नजदीक के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भेजवाया ।उत्तर प्रदेश  फतेहपुर  जिले के खखरेरू थाना क्षेत्र के नन्दापुर गाँव  निवासी रामराज की भैंस बीती 22  तारीख की रात  अज्ञात चोर घर के बाहर से चुरा ले गये थे । जिस पर उन्होंने भैस चोरी का मुकद्दमा खखरेरू थाने में अज्ञात चोरों के खिलाफ दर्ज करवा दिया था । जिसकी विवेचना जारी थी । इसी दौरान खागा कोतवाली पुलिस को जरिये मुखबिर सूचना मिली कि उक्त भैंस पचीसा गाँव  लल्लन नट के घर पर बंधी है । जिस पर पुलिस की एक संयुक्त टीम  भैंस की बरामदगी के लिये उक्त पचीसा गाँव गई  थी । लल्लन नट के यहाँ से भैंस बरामद भी हो गई थी । भैंस को लेकर पुलिस टीम जैसे ही गाँव के किनारे पहुँची तभी उक्त गाँव के अज्ञात  लोगो ने पुलिस के ऊपर लाठी डंडो व धारदार हथियार के साथ हमला कर दिया। 
जिसके चलते पुलिस कर्मी गम्भीर रूप से घायल हो गये ।ग्रामीणों की सूचना पर पहुँची कोतवाली पुलिस ने घायल पुलिस कर्मियों को इलाज एवम डाक्टरी परीक्षण हेतु नजदीक के  स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती करवाया ।वही  एस एस आई प्रभू नाथ यादव की दी हुई तहरीर के आधार पर सात नामजद व लगभग तीन दर्जन आरोपियों के खिलाफ भैंस चोरी , व पुलिस टीम पर जानलेवा हमला करने का मुकद्दमा पंजीकृत कर गिरफ्तारी के प्रयास किये जा रहे हैं ।इस बारे  पुलिस अधीक्षक से बात की गयी तो उन्होंने बताया की मामला पचीसा गाँव का हैं। खखरेरू थाना क्षेत्र के नंदपुर गाँव के राम राज ने अज्ञात के खिलाफ भेस चोरी की तहरीर दिया था। खागा पुलिस भैस  बरामदी के लिए पचीसा गांव गयी थी जहा पर ग्रामीणों ने हमला कर दिया एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया हैं। बाकी आरोपियों की तलाश जारी हैं। 

No comments:

Post a Comment